झारखंड के युवाओं को हुनरमंद बनाएं CIPET: सुनील

Wednesday, March 7, 2018 5:57 PM
झारखंड के युवाओं को हुनरमंद बनाएं CIPET: सुनील

रांचीः झारखंड के उद्योग सचिव सुनील कुमार वर्णवाल ने कहा कि सिपेट (सेंट्रल इंस्टीट्यूट ऑफ प्लास्टिक्स इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी) अपने मौजूदा संसाधनों का सर्वोत्तम उपयोग करते हुए राज्य के युवाओ को हुनरमंद बनाने में योगदान दें।

वर्णवाल ने सिपेट की क्षेत्रीय परामर्शदात्री समिति की बैठक की अध्यक्षता करते हुए कहा कि झारखंड में सिपेट की शुरुआत मई 2017 में हुई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा शुरू किए गए मेक इन इंडिया और डिजिटल इंडिया के लिए भी बड़ी संख्या में कुशल युवाओं की जरूरत है। मुख्यमंत्री रघुवर दास की भी प्राथमिकता युवाओं को कुशल बनाना है। इसके लिए सिपेट राज्य के युवाओं को योजनाबद्ध तरीके से कौशलयुक्त बनाए। बता दें कि जनवरी 2018 में सिपेट के कार्यों के मूल्यांकन और प्रगति की समीक्षा के लिए तथा बेहतर कार्य के लिए परामर्श देने के उद्देश्य से क्षेत्रीय परामर्शदात्री समिति का गठन उद्योग विभाग द्वारा किया गया। प्रत्येक चार महीने पर इसकी बैठक होगी। 

इसकी पहली बैठक थी जिसमें सिपेट रांची के लिए बीई-बीटेक छात्रों के पीजी डिप्लोमा के लिए सीटों का निर्धारण, कौशल प्रशिक्षण के आवासीय कार्यक्रम के तहत छात्राओं के आवासन के लिए गर्ल्स होस्टल के प्रस्ताव पर विचार किया गया। प्लास्टिक प्रोसेसिंग तथा क्वालिटी कंट्रोल से सम्बद्ध सभी कौशल प्रशिक्षण के लिए राज्य स्तर पर सिपेट को नोडल ऐजेंसी बनाने के लिए प्रस्ताव पर भी आरएसी में विचार किया गया।



आप को जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें-निःशुल्क रजिस्टर