आदित्यनाथ होंगे UP के नए CM, जानिए-कैसे अजय सिंह से बने 'योगी'

Saturday, March 18, 2017 8:42 PM
आदित्यनाथ होंगे UP के नए CM, जानिए-कैसे अजय सिंह से बने 'योगी'

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में प्रचंड जीत के साथ सत्ता में आई बीजेपी ने मुख्यमंत्री के लिए फायरब्रांड नेता योगी आदित्यनाथ के नाम पर मुहर लगाई है। लखनऊ में शनिवार को आयोजित विधायक दल की बैठक में योगी के नाम को मंजूरी दी गई। रविवार दोपहर 4.15 बजे राजधानी लखनऊ में योगी 20 मंत्रियों के साथ शपथ लेंगे। शपथ-ग्रहण समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह के साथ-साथ केंद्र सरकार के अन्य मंत्री तथा पार्टी के अन्य पदाधिकारी भी शामिल हो सकते हैं। 

बता दें कि देश के सबसे बड़े प्रदेश में बीजेपी ने 14 साल बाद सत्ता में पुन: वापसी की है। इस बार बीजेपी को कुल 403 सीटों में से 325 सीटों पर जीत मिली है। इन सभी नव-निर्वाचित विधायकों से रविवार को राजधानी लखनऊ पहुंचने के लिए कहा गया है। 

जानें वे 10 कारण जिसकी वजह से सौंपी गई UP की कमान-
1.उत्तराखंड के एक छोटे से गांव में पैदा हुए योगी का असली नाम अजय सिंह नेगी है। योगी, आदित्यनाथ कैसे बने यह कहानी काफी रोचक है। 
2. उनका जन्म 5 जून 1972 को उत्तराखंड में हुआ था। राजनीति के माहिर खिलाड़ी माने जाने वाले योगी आदित्यनाथ गढ़वाल विश्विद्यालय से गणित में बीएससी की डिग्री हासिल कर चुके हैं। 
3. योगी आदित्यनाथ का नाम लोकसभा में पहुंचने वाले सबसे कम उम्र के सांसदों की सूची में भी शामिल है।
4. गोखनाथ मंदिर के महंत अवैद्यनाथ ने उन्हें अपना उत्तराधिकारी घोषित किया जिसके बाद 1998 में वह सांसद चुने गए।
5. योगी आदित्यनाथ जब 12वीं लोकसभा में सांसद बनकर पहुंचे तब उनकी उम्र मात्र 26 साल थी। इसके बाद आदित्यनाथ 1999, 2004, 2009 और 2014 में भी लगातार सांसद चुने जाते रहे।
6. सितंबर 2014 में उनके गुरु महंत अवैद्यनाथ के प्राण त्यागने के बाद वह गोरखपुर मंदिर महंत यानी पीठाधीश्वर बने।
7. योगी आदित्यनाथ भाजपा के सांसद होने के साथ साथ हिंदू युवा वाहिनी के संस्थापक भी हैं। हिन्दू युवा वाहिनी युवाओं का एक सामाजिक, सांस्कृतिक और राष्ट्रवादी समूह है।
8. योगी को हथियार रखने का शौक है। 2004 में उनके पास महज 30 हजार रुपए के हथियार थे। 2009 में उन्होंने पुराने हटाकर 1 लाख 80 हजार की नई रिवॉल्वर और राइफल खरीदीं।
9. 7 सितंबर 2008 को सांसद योगी आदित्यनाथ पर आजमगढ़ में जानलेवा हिंसक हमला हुआ था। इस हमले में वे बाल-बाल बचे थे, यह हमला इतना बड़ा था कि सौ से अधिक वाहनों को हमलावरों ने घेर लिया और लोगों को लहुलुहान कर दिया।
10. योगी धर्मांतरण के खिलाफ और घर वापसी के लिए काफी चर्चा में रहे। 2005 में योगी आदित्यनाथ ने कथिततौर पर 1800 ईसाइयों का शुद्धीकरण कर हिन्दू धर्म में शामिल कराया। ईसाइयों के इस शुद्धीकरण का काम उत्तर प्रदेश के एटा जिले में किया गया।



विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !