अखिलेश के चाचा ने अपनी ही पार्टी के विधायक पर छोड़े जुबानी तीर

Tuesday, March 13, 2018 10:52 AM
अखिलेश के चाचा ने अपनी ही पार्टी के विधायक पर छोड़े जुबानी तीर

आगरा: यूपी के फिरोजाबाद में सोमवार को जिले की सियासी जमीन पर हाई वोल्टेज ड्रामा हुआ। जिला पंचायत अध्यक्ष पद के नामांकन से पहले सपा समर्थित 10 जिला पंचायत सदस्य भाजपा के खेमे में चले गए।

सपा के राष्ट्रीय महासचिव और सांसद प्रोफैसर रामगोपाल यादव ने सभा में अपनी ही पार्टी के विधायक हरिओम यादव पर 8 से 10 करोड़ तक की डील करके सपा समर्थित सदस्यों को भाजपा को बेचने का आरोप लगाया तो सियासी तूफान खड़ा हो गया।

रामगोपाल यादव ने खुल कर कहा कि पार्टी को दगा देकर जेल के अंदर भाजपा नेताओं के साथ उनके विधायक ने यह डील की। उधर, जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए भाजपा प्रत्याशी अमोल यादव ने नामांकन किया। सपा प्रत्याशी निर्मला यादव का नामांकन पत्र निरस्त होने के कारण अमोल यादव का निर्विरोध अध्यक्ष बनना तय हो गया है।

जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए सोमवार को नामांकन था। रविवार रात को भाजपा ने जसराना से सपा के पूर्व विधायक रामवीर यादव के पुत्र अमोल यादव को प्रत्याशी बनाने की घोषणा की। सपा ने पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष विजय प्रताप छोटू को प्रत्याशी बनाया था लेकिन शासन द्वारा छोटू की सदस्यता खत्म करने के बाद सपा नया उम्मीदवार तय करने पर मंथन कर रही थी।



आप को जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें-निःशुल्क रजिस्टर