लाउडस्पीकर पर बैन को लेकर साधुओं में नाराजगी, फैसले पर पुर्नविचार की अपील

Tuesday, January 9, 2018 11:56 AM

इलाहाबाद: इलाहाबाद हाईकोर्ट के लाउडस्पीकर पर बैन के आदेश को लेकर संगम नगरी के साधु-संतों में नाराजगी है। साधुओं ने कोर्ट के आदेश का सम्मान करते हुए इस फैसले पर पुर्नविचार की अपील की है।

संगम के माघ मेले में आए संत स्वामी विश्वेश्वरा नंद ने कहा है कि हाईकोर्ट का आदेश सर्वोपरि है। सभी कोर्ट के आदेश का सम्मान करते हैं, लेकिन धार्मिक स्थलों पर लाउड स्पीकर के प्रतिबंध के फैसले पर पुर्नविचार होना चाहिए। उन्होंने कहा कि सनातन धर्म की परंपरा है कि ब्रह्म मुहूर्त में पूजा अर्चना और धार्मिक अनुष्ठान होते हैं, इसलिए धार्मिक स्थलों को इस आदेश से छूट मिलनी चाहिए।

वहीं शिव योगी अभय चैतन्य मौनी महाराज ने लाउडस्पीकर के प्रतिबंध को अनुचित करार दिया है। उन्होंने कहा है कि केवल मंदिरों से लाउडस्पीकर उतारना पूरी तरह से गलत है। हालांकि उन्होंने कोर्ट के आदेश के सम्मान की भी बात कही है। उन्होंने कहा है कि सवाल ये है कि क्या मंदिरों के ही लाउडस्पीकर उतारे जाने हैं? उन्होंने राज्य सरकार और हाईकोर्ट से इस फैसले पर पुर्नविचार की अपील की है।



आप को जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें-निःशुल्क रजिस्टर