गोरखपुर में बाढ़ के बाद डायरिया ने बरपाया कहर, 300 लोग शिकार, 4 ने तोड़ा दम

Wednesday, September 13, 2017 4:17 PM
गोरखपुर में बाढ़ के बाद डायरिया ने बरपाया कहर, 300 लोग शिकार, 4 ने तोड़ा दम

गोरखपुरः गोरखपुर में बाढ की तबाही के बाद डायरिया ने भी कहर बरपाना शुरू कर दिया है। पिछले 72 घंटों में 300 मरीज इसकी चपेट में आ गए हैं, जिसमें से 4 लोगों की मौत हो गई है। जिन मरीजों की हालत गंभीर है उन्हें जिला अस्पताल रेफर किया जा रहा है।

संक्रामक बीमारी की गिरफ्त में संग्रामपुर
बता दें कि बांसगांव ब्लाक का कस्बा संग्रामपुर बाढ़ से दोनों तरफ से घिर गया था। बाढ़ का पानी अभी पूरी तरह से हटा नहीं था कि इस बीच संक्रामक बीमारी ने कस्बे को अपनी गिरफ्त में ले लिया। करीब 3 दिन पहले गांव में लोगों को उल्टी-दस्त की शिकायत शुरू हो गई। तभी ग्रामीण प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र दवा के लिए पहुंचने लगे। वहीं डॉक्टर गंभीर रोगियों की हालत देख उन्हें जिला अस्पताल रेफर कर रहें हैं।

अब तक 4 लोगों की मौत
2 दिन पहले ही 45 वर्षीय महिला को जिला अस्पताल भेजा गया, जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई। इसके बाद 17 वर्षीय पूजा को रविवार सुबह उल्टी-दस्त की शिकायत हुई। परिजनों ने उसे गांव के ही एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया, जहां उसकी भी मौत हो गई। ऐसे ही 2 अन्य लोगों की मौत हो गई। सीएमओ रविंद्र कुमार ने कस्बे का निरीक्षण किया और व्यवस्था देखी। लोगों की गंभीर हालत देखते हुए उन्होंने दवा और ओआरएस के पैकेट इलाके में बंटवाए।

मछली का सेवन बंद करें- हर्षदेव पांडेय 
एसडीएम खजनी हर्षदेव पांडेय ने संग्रामपुर बाजार पहुंच कर जनता से अपील की कि हरहाल में मछली का सेवन बंद करें। उन्होंने मछली के दुकानों को बंद कराया तथा निर्देश दिया कि कल से छोटी मछली नहीं बिकेंगी, जो मछुआरा छोटी मछली बेचते मिला उस पर कार्रवाई होगी। उन्होंने कहा कि उल्टी और दस्त की शिकायत लेकर आने वाले मरीजों की संख्या कल से आज कम हुई है।

300  डायरिया पीड़ित मरीजों का हुआ पंजीकरण
कस्बे में महामारी फैलने के बाद स्वास्थ्य विभाग हरकत में आ गया है। रात्रि में कैंप कर रहे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बांसगांव के अधीक्षक डॉ.अच्यूत प्रसाद ने बताया कि स्थिति नियंत्रण में हैं। सोमवार की दोपहर तक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र उनवल में 300  डायरिया पीड़ित मरीजों का पंजीकरण किया गया। इनमें अधिकांश को केंद्र पर रखकर दवा दी गई और उसके बाद घर भेज दिया गया।
 



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!