नशे में धुत डॉक्टरों ने थाने पर बाेला धावा, चाैकी में ताेड़फाेड़ के बाद होमगार्ड का ताेड़ा हाथ

Monday, September 4, 2017 2:35 PM
नशे में धुत डॉक्टरों ने थाने पर बाेला धावा, चाैकी में ताेड़फाेड़ के बाद होमगार्ड का ताेड़ा हाथ

कानपुर(अंबरीश त्रिपाठी): उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले में मेडिकल कॉलेज के डॉक्टरों का ताण्डव एक बार फिर देखने को मिला। यहां तीमारदारों और डॉक्टरों के बीच झगडे़ की सूचना पर पहुंची पुलिस पर भी डॉक्टरों ने हमला बोल दिया। जिससे पुलिस को जान बचाकर वहां से भागना पड़ा। पुलिस पर हमला करने वाले 2 डॉक्टरों को हिरासत में ले लिया गया है।

जानकारी के अनुसार मामला कानपुर के मेडिकल कालेज का है। जहां बने ब्लड बैंक में देर रात खून ना मिलने पर तीमारदारों ने जमकर हंगामा किया। हंगामे की सूचना पर पुलिस की डायल 100 गाडी मौके पर पहुंची, लेकिन पैथोलॉजी के असिस्टेंट प्रोफ़ेसर डॉ योगेंद्र वर्मा और डॉ मणि शंकर पुलिस से हाथापाई करने लगे।

शराब के नशे में धुत थे डॉक्टर 
डायल 100  के सिपाही वीरपाल सिंह ने बताया कि रात 2 बजे मेडिकल कॉलेज से  सूचना मिली थी कि डॉक्टर, तीमारदाराें के साथ झगड़ा कर रहे हैं और खून नहीं दे रहे हैं। जब हम लाेग वहां माैके पर पहुंचे ताे डॉक्टर शराब के नशे में थे। जब हमने मामले काे शांत कराने की काेशिश की ताे मारपीट करने पर उतर आए। इस दौरान आराेपी डाक्टर ने वहां पर कई लड़कों को भी बुला लिया। वाे लाेग भी हम लाेगाें से बत्तमीजी करने लगे और गाड़ी तोड़ने लगे।

स्वरुप नगर थाने पर बोला धावा 
वहीं नशे में धुत्त डॉ योगेंद्र और मणि शंकर ने इतने पर भी बस नहीं किया। दाेनाें आराेपियाें ने अपने कई जूनियर डॉक्टरों के साथ डंडों से स्वरुप नगर थाने पर धावा बोल दिया। डॉक्टरों ने थाने में जमकर तोड़फोड़ की। मोटर साइकिल और कुर्सियों काे भी पलट दिया।

होमगार्ड का ताेड़ा हाथ 
इस दाैरान पहरे पर मौजूद होमगार्ड शिवदास गौतम ने जब आराेपियाें को रोकने की कोशिश की तो उन्होंने उस पर भी डंडों से हमला कर दिया। जिससे उसका एक हाथ टूट गया।
 



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!