इंजीनियर अंकित चौहान हत्याकांड: यूपी STF के हाथ लगी एक और बड़ी कामयाबी

Sunday, June 4, 2017 3:41 PM
इंजीनियर अंकित चौहान हत्याकांड: यूपी STF के हाथ लगी एक और बड़ी कामयाबी

नोएडा: उत्तर प्रदेश की एसटीएफ ने कुख्यात बदमाश अनिल दुजाना गिरोह के सदस्य सतपाल उर्फ सत्ते तथा पवन शर्मा को मुठभेड़ के दौरान गिरफ्तार किया है। हत्या, लूट और रंगदारी की दर्जनों घटनाओं सहित बहुचर्चित अंकित चौहान हत्याकांड मामले में भी पुलिस को पवन तथा सतपाल की तलाश थी।

पश्चिमी उप्र एसटीएफ के एसपी राजीव नारायण मिश्रा ने बताया कि एक सूचना के आधार पर एसटीएफ ने कुख्यात अपराधी अनिल दुजाना गिरोह के सदस्य सतपाल उर्फ सत्ते, निवासी बुलंदशहर और पवन शर्मा निवासी ग्रेटर नोएडा को एक मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार किया है। इनके पास से पुलिस ने 2 पिस्टल और 2 कार बरामद की है।

एसपी ने बताया कि पूछताछ के दौरान दोनों ने स्वीकार किया है कि अनिल दुजाना के कहने पर उन्होंने जनपद में हत्या, लूट और रंगदारी की कई वारदातों को अंजाम दिया है। उन्होंने बताया कि बहुचर्तित अंकित चौहान हत्याकांड में भी ये दोनों शामिल थे। अंकित चौहान की हत्या के समय पवन कार चला रहा था जबकि फारचूनर कार लूटने के बाद अंकित के हत्यारे कार को सते को बेचने वाले थे।

गौरतलब है कि वर्ष 2015 में नोएडा के थाना सेक्टर 49 क्षेत्र में इंजीनियर अंकित चौहान की हत्या कर दी गई थी। इस मामले की जांच केंद्रीय जांच ब्यूरो द्वारा की जा रही है। इस मामले में उप्र एसटीएफ और सीबीआई ने 2 दिन पूर्व 2 हत्यारों शशांक तथा मनोज को गिरफ्तार कर घटना का खुलासा किया था। उस समय की पूछताछ के दौरान एसटीएफ को पता चला था कि इस घटना में पवन तथा सत्ते भी संलिप्त हैं।



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!