कौशांबीः कर्ज वसूली का नोटिस मिलने के बाद किसान ने की आत्महत्या

Friday, June 16, 2017 12:05 PM
कौशांबीः कर्ज वसूली का नोटिस मिलने के बाद किसान ने की आत्महत्या

कौशाम्बी: यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य के गृह जनपद कौशाम्बी में कर्ज की वसूली से परेशान एक किसान ने आत्महत्या कर ली। किसान ने 4 बीघे खेत में आलू की फसल लगाने के लिए साधन सहकारी समिति से 38 हजार रूपए का कर्ज लिया था।

मामले में जांच के बाद उचित कार्रवाई का दावा
परिवार वालो का आरोप है कि सरकारी खरीद केंद्र पर जाने के बाद भी पिछले एक महीने से उसका आलू नहीं खरीदा गया। जिसकी वजह से उसकी आलू की फसल खेत में ही सडने लगी थी। इसी बीच समिति के कर्मचारियों ने उसे वसूली का नोटिस भेज दिया। नोटिस मिलने से किसान काफी डिप्रेशन में था और सुबह उसने अपने खेत में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। पुलिस इस मामले में जांच के बाद उचित कार्रवाई के दावे कर रही है।

कौशाम्बी जिले की सिराथू तहसील के बख्तियारा गांव के किसान राम बाबू द्विवेदी ने अपने खेत के एक पेड़ में फ़ासी पर लटक कर अपनी जिन्दगी को ख़त्म कर लिया।मृतक किसान ने इस साल साधन सहकारी समिति से 38 हजार रुपए कर्ज लेकर चार बीघे खेत में आलू की अच्छी पैदावार की थी। इसी आलू की फसल को सरकारी क्रय केंद्र पर बेचने के लिए वह पिछले एक महीने से चक्कर लगा रहा था, लेकिन क्रय केंद्र प्रभारी की मनमानी के कारण उसकी आलू की फसल की खरीद नहीं की गई।

UP SAMACHAR की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें-



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!