अलाव की चिंगारी बनी काल, 2 बच्चों समेत 4 लोगों की मौत

Friday, January 5, 2018 4:21 PM

आजमगढ़ः आजमगढ़ जिले में ठंड में अलाव की आग काल साबित हुई। मंडई में अलाव रखकर सो रहे एक ही परिवर के 2 बच्चों समेत 4 लोगों की मौत हो गई। जबकि करीब आधा दर्जन बेजुबान पशु भी झुलस गए। घटना के बाद पूरे गांव में कोहराम मचा हुआ है। मौके पर पुलिस, प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग के आला अधिकारी पहुंच कर पीड़ित परिजनों को हर संभव मदद का भरोसा दे रहे हैं।
PunjabKesari
जानकारी के मुताबिक घटना रौनापार थाना क्षेत्र के बरडिहा गांव के दलित बस्ती की  है। जहां के निवासी रामसागर अपनी पत्नी और 2 बच्चों के साथ मंडई में अपना गुजारा करते थे। बताया जा रहा है कि गुरूवार की रात परिजन भोजन के बाद सोने से पहले ठंड से बचने के अलाव जलाकर सो गए। देर रात को आचानक अलाव की आग ने पूरी मड़ई को अपने आगोश में ले लिया।
PunjabKesari
इस दौरान मंडई में सो रही रामसागर की पत्नी प्रभावती, 2 बच्चियां चन्द्रशील और संगीता की झुलसने से मौके पर ही मौत हो गई। जबकि रामसागर गंभीर रूप से झुलस गया। स्थानीयों की मदद से उसे जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया जहां उसकी कुछ ही देर बाद मौत हो गई। 4 लोगों की मौत के बाद गांव में मातमी सन्नाटा पसर गया। इसके साथ मंडई में बंधे बेजुबान गाय, बछड़ा और आधा दर्जन बकरियां भी झुलस गई।
PunjabKesari
सूचना के बाद मौके पर पुलिस पहुंच गई। सुबह होते ही प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी घटनास्थल पर पहुंचे। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने हादसे में झुलसे पशुओं का उचार शुरू कर दिया। वहीं प्रशासन के अधिकारियों ने पीड़ित परिजनों को आवास, किसान दुर्घटना सहित हर संभव मदद का भरोसा दिलाया। 


 



आप को जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें-निःशुल्क रजिस्टर