नौजवान से लेकर छोटे बच्चे तक ले रहे हैं नशा, अब डीएम करेंगे कार्रवाई

Saturday, January 13, 2018 1:31 PM
नौजवान से लेकर छोटे बच्चे तक ले रहे हैं नशा, अब डीएम करेंगे कार्रवाई

हापुड़ः आज के दौर में नशा एक नामुराद बीमारी का रूप का धारण कर चुका है। जिसमें आज के नौजवान पीड़ी से लेकर छोटे बच्चे तक नशे की चपेट में आने लगे हैं। नशे की लत ने इन मासूमों पर इस कदर अपना शिकंजा कस लिया है कि वह अपनी लाख कोशिशों के बावजुद भी इससे उभर नहीं सकते हैं। ताजा मामला हापुड़ जिले का है। जहां मासूम बच्चे नशे के लिए नए-नए तरीके अपना रहे हैं।
PunjabKesari
दरअसल, ये मामला डीएम कृष्णा करुणेश के सज्ञान में आने के बाद उन्होंने एसपी हेमंत कुटियाल से इस बारे में मीटिंग की। जिसके बाद जल्द ही इन मासूमों को स्कूलों में एडमीशन करने की बात कही गई। इतना ही नहीं नशे के आदि बच्चे अपने प्राइवेट पार्ट में भी नशे के इंजेक्शन का इस्तेमाल करते हैं। स्थानीय निवासियों का कहना है की ये बच्चे 10 से 12 साल के हैं और कई साल से नशा कर रहे हैं। इनके परिजन भी इनकी तरफ कोई ध्यान नहीं देते।
PunjabKesari
काफी समय से नशा ले रहे बच्चों से जब इस बारे में बात की गई तो उन्होंने बताया कि नशीली चीजें बड़े आराम से मिल जाती हैं। बच्चे साईकल में लगाने वाली टयूब और 20 रूपये में मिलने वाली सोल्यूशन की ट्यूब को 80 रूपये में खरीदते हैं। इसको एक कपड़े में डालकर नाक और मुंह से सूंघते हैं। ऐसे में सवाल उठना लाजमी है कि अब सारा माजरा जिला अधिकारियों के सज्ञान में आने के बाद वह क्या कार्रवाई करते हैं।

 



आप को जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें-निःशुल्क रजिस्टर