पुलिस ने अपराधी तत्वाें के साथ मिलकर पत्रकाराें पर दर्ज किया फर्जी केस, जिला प्रेस क्लब ने की निंदा

Thursday, September 14, 2017 3:22 PM
पुलिस ने अपराधी तत्वाें के साथ मिलकर पत्रकाराें पर दर्ज किया फर्जी केस, जिला प्रेस क्लब ने की निंदा

औरैयाः पुलिस और आपराधिक प्रवृत्ति के लोगों से साठगांठ के खिलाफ वीरवार काे जिला प्रेस क्लब की आपातकालीन बैठक हुई। इस दाैरान प्रेस क्लब के अध्यक्ष सुरेश मिश्रा सहित चार अन्य पत्रकारों के खिलाफ लगे गंभीर धाराओं के मुकदमे की निंदा की गई। बैठक में यह निर्णय लिया गया कि जब तक पत्रकारों को न्याय नहीं मिल जाता तब तक सभी पत्रकार साथी अपनी-अपनी बाहों पर काली पट्टी बांधकर अपना कार्य संपन्न करेंगे। 

बैठक में वरिष्ठ उपाध्यक्ष अनिल दीक्षित, महामंत्री विपिन मित्तल, गौरव त्रिवेदी ,दीपेंद्र सिंह, गौरव श्रीवास्तव, रितुराज दुबे, रवि तिवारी,आशीष तिवारी, नवनीत तिवारी , राहुल तिवारी, विशाल त्रिपाठी, प्रवेश चतुर्वेदी, जाहिद अख्तर सहित जिला प्रेस क्लब के सभी सदस्य मौजूद रहे। इसके अलावा औरैया प्रेस क्लब के संयोजक सुनील गुप्ता न्यू प्रेस क्लब के संरक्षक राजीव शुक्ला आैर एक अखबार के ब्यूरो चीफ हिमांशु गुप्ता ने पुलिस की कार्रवाई की घोर निंदा की और आर-पार लड़ाई निर्णय का ऐलान किया।

इटावा, दिबियापुर, कानपुर देहात सहित लखनऊ के कई पत्रकारों ने टेलीफोन पर भी पत्रकाराें के खिलाफ की गई कार्रवाई की कड़ी निंदा की आैर इस लड़ाई को भारतीय प्रेस परिषद तक ले जाने की बात कही। 

गाैरतलब है कि औरैया पुलिस अधीक्षक से मिलकर आपराधिक प्रवत्ति के लोगों ने पत्रकारों के खिलाफ संगीन धाराओं में मुकद्दमा लिखवाया है। न्यूज़ चैनलों पर लगातार प्रसारित हुई खबरों से बौखलाए SP संजीव त्यागी ने षड्यंत्र रचा है।बता दें कि जिला प्रेस अध्यक्ष सुरेश मिश्र सहित 5 लोग नामजद और कई अज्ञात के खिलाफ औरैया काेतवाली में केस हुआ दर्ज है। 
 



विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !