नोएडा में पुलिस ने किया बदमाशों का एनकाउंटर, फायरिंग के बाद 3 गिरफ्तार

Sunday, January 14, 2018 9:25 AM
नोएडा में पुलिस ने किया बदमाशों का एनकाउंटर, फायरिंग के बाद 3 गिरफ्तार

नोएडा: उत्तर प्रदेश के गौतम बुद्ध नगर स्थित नोएडा के फेज 2 में पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ हो गई। इस मुठभेड़ में 2 बदमाश घायल हो गए जबकि उनका एक साथी अंधेरे का लाभ उठाकर भाग निकला। घायल बदमाशों के पैर में गोली लगी है जिन्हें पुलिस ने पास के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया है। गिरफ्तार किए गए बदमाशों पर एक व्यापारी से 2 करोड़ की रंगदारी मांगने और उस पर जानलेवा हमला करने का आरोप है। पुलिस ने इस मामले में 3 बदमाशों को गिरफ्तार किया है।
PunjabKesari
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक लव कुमार ने बताया कि 8 जनवरी की रात फेस-2 में रहने वाले उमेश विज नामक व्यापारी की कार पर कुछ अज्ञात बदमाशों ने ताबड़तोड़ गोलियां बरसाकर हमला किया था। इस मामले में अज्ञात बदमाशों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई। जांच के दौरान पुलिस को पता चला कि हमले से पहले विज के मोबाइल पर धमकी वाले कई फोन कॉल आए थे। इसकी जांच करने के बाद पुलिस को पता चला कि इस मामले में अरविंद नामक व्यक्ति की भूमिका संदेह के घेरे में है। अरविंद का मोबाइल नंबर लगातार बदल रहा था और वह बदले हुए नंबरों से व्यापारी को फोन पर धमकी देकर रंगदारी की मांग कर रहा था।
PunjabKesari
शनिवार की रात थाना फेस-2 पुलिस को सूचना मिली कि सेक्टर-81 के पास कुछ बदमाश किसी वारदात को अंजाम देने के लिए आने वाले हैं। साथ ही पुलिस को यह भी जानकारी मिली कि इन बदमाशों में अरविंद नामक बदमाश भी शामिल है। सूचना के आधार पर पुलिस ने बदमाशों को पकड़ने के लिए घेरा डाल दिया। इसी दौरान पुलिस को सामने से कुछ लोग आते दिखाई दिए, जिन्हें पुलिस ने रोकने का प्रयास किया तो उन्होंने पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी पुलिस ने जवाबी कार्रवाई करते हुए बदमाशों पर फायर किया। इस घटना में 2 बदमाशों के पांव में गोली लगी और वह घायल हो गए।
PunjabKesari
घायलों को पास के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है पुलिस का कहना है कि अंधेरे का लाभ उठाकर उनका एक साथी मौके से फरार हो गया। घायल बदमाशों के नाम आजाद व विकास बताए गए हैं। इसके अलावा पुलिस ने संजू नामक बदमाश को भी गिरफ्तार किया है। तीनों बदमाश मूल रूप से बागपत के रहने वाले है। उक्त घटना का मास्टर माइंड अरविंद ड्राइवर है जो विज की गाड़ी चलाया करता था जिसे विज ने 2 साल पहले नौकरी से निकाल दिया था अरविंद ने ही बदमाशों को उमेश विकास के बारे में जानकारी दी थी।



अपना सही जीवनसंगी चुनिए | केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन