श्री श्री रविशंकर और योगी ने किया मंदिर निर्माण पर मंथन! महंत नरेन्द्र गिरी ने बताया ‘नौटंकी’

Wednesday, November 15, 2017 11:00 AM

लखनऊ: अयोध्या के मंदिर मस्जिद विवाद को सुलह समझौते से हल करने के चल रहे प्रयासों के बीच आज आध्यात्मिक गुरु श्री श्री रविशंकर ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की।  

विश्वस्त सूत्रों के अनुसार करीब चालीस मिनट तक दोनों में हुई बातचीत के दौरान मंदिर निर्माण के संबंध में चर्चा की गयी। उच्चतम न्यायालय ने हाल ही में कहा था कि मंदिर मस्जिद विवाद का निपटारा अदालत से बाहर सुलह समझौते से हो जाये तो बेहतर रहेगा। न्यायालय भी उसमें मदद को तैयार रहेगा। 

श्री रविशंकर दोपहर करीब एक बजे शिया सेन्ट्रल वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी से भी मिलेंगे।  

रविशंकर के प्रयास को महंत नरेन्द्र गिरी ने बताया नौटंकी
श्री रविशंकर के इस प्रयास पर टिप्पणियां भी आनी शुरू हो गई हैं। इलाहाबाद स्थित अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेन्द्र गिरी ने इसे महज एक नौटंकी करार दिया है। उन्होंने आरोप लगाया है कि श्रीश्री रविशंकर प्रचार पाने के लिए राम मंदिर मुद्दे के बीच में कूद पड़े हैं। महंत नरेन्द्र गिरि ने कहा है कि अगर उनके पास कोई ऐसा फार्मूला हो जिससे सभी पक्षों की सहमति बन जाये तो स्वागत योग्य है। महंत नरेन्द्र गिरि ने कहा है कि मंदिर निर्माण का विषय साधु-सन्तों का है. इस विषय को साधु-सन्तों और मुस्लिम धर्म गुरु मिलकर बैठेंगे तो मामला सुलझ जाएगा। 

कोर्ट जमीन को राम जन्म भूमि कह चुका है: विनय कटियार
बीजेपी के फायरब्रांड नेता व राज्यसभा सांसद विनय कटियार ने कहा कि कोर्ट जमीन को राम जन्म भूमि पहले ही कह चुका है। 



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!