CAA हिंसा: सार्वजनिक संपत्तियों को नुकसान पहुंचाने वालों की संपत्ति की नीलामी 16 जुलाई को

7/2/2020 7:10:14 PM

लखनऊ: राजधानी में हजरतगंज के परिवर्तन चौक और पुराने लखनऊ में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ हिंसक प्रदर्शन करने और सार्वजनिक संपत्तियों को नुकसान पहुंचाने वालों के खिलाफ जिला प्रशासन ने कुर्की की कार्रवाई बृहस्पतिवार को जारी रखी और आगामी 16 जुलाई को 'नीलामी' की कार्रवाई की जाएगी।

राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने कहा, 'सीएए विरोध की आड़ में अमन चैन बिगाड़ने और संपत्तियों को नुक़सान पहुँचाने वालों के ख़िलाफ़ तगड़ी कार्रवाई जारी है। पोस्टर, गिरफ़्तारी और जुर्माने के बाद अब जुर्माना जमा न करने वालों के ख़िलाफ़ कुर्की की कार्रवाई चल रही है। आगामी 16 जुलाई को नीलामी की कार्रवाई की जाएगी।'

PunjabKesari
प्रवक्ता ने बताया कि एनआरसी और सीएए के खिलाफ हुए प्रदर्शन में हुई हिंसा को लेकर अपर जिलाधिकारी ट्रांस गोमती की अदालत से जारी वसूली प्रमाणपत्र के क्रम में चार वसूली प्रमाण पत्र जारी किए गए। उन्होंने बताया कि सभी आरोपियों के विरुद्ध नोटिस एवं मांग पत्र जारी कर इसे तामील कराया जा चुका है। नोटिस की अवधि समाप्त होने के पश्चात सभी के विरुद्ध गिरफ्तारी का वारंट जारी हो चुका है। इसके क्रम में समस्त बकायेदारों के विरुद्ध चल संपत्ति कुर्की की कार्रवाई की जा रही है।

जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश के निर्देशानुसार दिनांक 30 जून को दो भागीदारों की चल संपत्ति कुर्क कर सील की गई तथा बृहस्पतिवार को एक बकायेदार कि चल सम्पत्ति की कुर्की की गई। प्रवक्ता ने बताया कि कुल आरोपियों की संख्या 57 है और कुल धनराशि 1.55 करोड़ रुपये है, जो वसूली जानी है।


Ajay kumar

Related News