अलीगढ़ के सरकारी स्कूल में 150 बच्चों को जबरन लगाई गई वैक्सीन,  50 की बिगड़ी तबीयत

punjabkesari.in Saturday, Oct 01, 2022 - 11:30 AM (IST)

अलीगढ़ः उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ जिले से स्वास्थ्य विभाग और स्कूल प्रशासन की बड़ी लापरवाही का मामला सामने आया है। जहां सरकारी स्कूल के टीचरों  ने जबरन लगभग 150 बच्चों को स्कूल का गेट बंद करके वैक्सीन की डोज लगा दी गई। जिसके बाद 50 से अधिक बच्चों की तबीयत खराब हो गई।आनन-फानन में उन्हें स्थानीय सीएससी में भर्ती कराया गया है। वहीं, परिजनों ने स्कूल के टीचरों पर आरोप लगाते हुए बताया कि बिना उनकी अनुमति के उनके बच्चों को जबरन वैक्सीन लगाई गई है। 

जानें क्या है पूरा मामला
बता दें कि मामला अलीगढ़ के थाना दादों इलाके के नाई के नगला प्राथमिक विद्यालय का है। जहां स्कूल टीचरों ने बच्चों के साथ मारपीट कर उन्हें कमरे में बंद कर दिया। इसके बाद बिना बच्चों के माता-पिता की अनुमति के लगभग 150 बच्चों को जबरन वैक्सीन की डोज लगा दी गई। जिससे लगभग 50 बच्चों की तबीयत खराब हो गई। आनन-फानन में उन्हें छर्रा इलाके की सीएससी में भर्ती कराया गया है। जहां उनका इलाज चल रहा है।

जबरन कमरे में बंद कर पीटा गया और फिर लगाई गई वैक्सीन- पीड़ित बच्चे
बच्चों ने बताया कि स्कूल की टीचरों ने जबरन उनकों कमरे में बंद कर उनकी पिटाई की और इसके बाद डोज लगा दी गई। डोज के कुछ समय ही बाद अधिकतर बच्चों को उल्टी दस्त और तेज बुखार आने लगा। इसके बाद परिजनों ने अपने बच्चों को स्थानीय सीएचसी में भर्ती कराया है। साथ ही परिजनों ने स्कूल के टीचरों पर आरोप लगाते हुए कहा है कि बिना उनकों बताए टीचरों और डाक्योरं ने मिलकर बच्चों के साथ यह हरकत की है।

डीपीडी के टीके के बाद बुखार आता है- डॉक्टर अवनेंद्र यादव
वहीं, इस बारे में जानकारी देते हुए छर्रा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के डॉक्टर अवनेंद्र यादव ने बताया कि बूस्टर अभियान चल रहा है। जिसके चलते सभी को टीडी और डीपीडी के टीके लगाए जा रहे है। साथ ही उन्होंने बताया कि डीपीडी के टीके के बाद बुखार आता है, इसलिए बच्चों को बुखार हुआ है, अभी सब बच्चे खतरे से बाहर हैं।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Editor

Harman Kaur

Related News

Recommended News

static