69000 शिक्षक भर्तीः चयनित शिक्षकों की होगी 5 तरह की मेडिकल जांच, देना होगा प्रमाण पत्र

punjabkesari.in Tuesday, Jun 02, 2020 - 02:06 PM (IST)

लखनऊः उत्तर प्रदेश में 69000 शिक्षक भर्ती की मेरिट में नाम आने के बाद शिक्षकों को फिट रहने का प्रमाण पत्र प्राप्त करना होगा। मेडिकल प्रमाण पत्र के लिए शिक्षकों को पांच तरह की जांच करानी होगी। बेसिक शिक्षा विभाग में चयनित शिक्षकों को सीएमओ कार्यालय से फिट होने का प्रमाण पत्र मिलने के बाद ज्वाइन कराया जाएगा। यह प्रमाण पत्र स्वास्थ विभाग की ओर से जारी किया जाएगा।

बता दें कि शिक्षकों को यह मेडिकल प्रमाण पत्र तभी जारी होगा जब चयनित शिक्षक सभी जांचों में सामान्य पाए जाएंगे। इसके लिए चयनित शिक्षकों को नियुक्ति पत्र मिलने के बाद मेडिकल बोर्ड में प्रमाण पत्र के लिए आवेदन करना होगा। वहां से उन्हें जांच के लिए कॉल्विन अस्पताल भेजा जाएगा। यहां सभी जांच होगी। इसमें उन्हें TLC, DLC, ESR व हीमोग्लोबिन की जांच करानी होगी। इसके अलावा सभी चयनित शिक्षकों की आंखों की जांच भी होगी। रिपोर्ट मिलने के बाद उसे CMO कार्यालय स्थित मेडिकल बोर्ड में जमा कराना पड़ेगा। इसके बाद उन्हें प्रमाण पत्र जारी किया जाएगा। मेडिकल प्रमाण पत्र के लिए शिक्षकों को सिर्फ 12 रुपये फीस जमा करनी होगी। वहीं चयनित महिला शिक्षकों को उक्त जांचों के अलावा प्रेग्नेंसी टेस्ट भी कराना होगा। ये जांच भी कॉल्विन अस्पताल में ही होगी। अगर महिला गर्भवती होगी तो मेडिकल प्रमाण पत्र में इसका भी उल्लेख किया जाएगा।

मेडिकल बोर्ड के अध्यक्ष डॉ. एसएस यादव का कहना है कि नियुक्ति पत्र मिलने के बाद सभी चयनित शिक्षकों का मेडिकल प्रमाण पत्र बनेगा। इसके लिए उन्हें पांच जांच करानी होगी। जांच रिपोर्ट आने के बाद उन्हें प्रमाण पत्र जारी किया जाएगा। 

 

 

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Author

Moulshree Tripathi

Related News

Recommended News

static