कानपुर हिंसा को लेकर ADG सख्त, बोले- गुनहगारों के घरों पर चलेगा बुलडोजर

punjabkesari.in Friday, Jun 03, 2022 - 07:47 PM (IST)

कानपुर: जिले में  जुमे की नमाज के बाद दुकान बंद कराने के लिए हुए हिंसा मामले में एडीजी ने सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए है। उन्होंने कहा कि हिंसा के गुनहगारों की पहचान कर आरोपियों के घरों पर बुलडोजर चलाया जाएगा। इस मामले में 20 आरोपी को पुलिस ने हिरासत में लिया है। उन्होंने बताया कि शहर में लगे सीसीटीवी फुटेज को पुलिस खंगाल रही है। जल्द ही शेष आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया जाएगा।

PunjabKesari

बताया जा रहा कि अल्पसंख्यक समुदाय के लोग हाल ही में टीवी पर बहस के दौरान भाजपा प्रवक्ता नुपुर शर्मा द्वारा पैगंबर मुहम्मद के खिलाफ की गई कथित अपमानजनक टिप्पणी को लेकर नाराज थे और वे इलाके की दुकानें बंद कराने का प्रयास कर रहे थे। पुलिस ने बताया कि कथित तौर पर दुकानदारों को अपने शटर बंद करने के लिए मजबूर करने वाले लोग पुलिसकर्मियों से भिड़ गए, इसी दौरान  दोनों पक्षों में जमकर पथराव हुआ।

 अधिकारी ने कहा बताया कि एमएमए जौहर फैन्स एसोसिएशन के अध्यक्ष हयात जफर हाशमी सहित कुछ स्थानीय नेताओं ने शुक्रवार को दुकानों को बंद करने का आह्वान किया था। उन्होंने बताया कि इन नेताओं ने पैगंबर मोहम्मद के कथित अपमान के खिलाफ जुलूस निकाला था और इस दौरान वे अन्य समुदाय के सदस्यों से भिड़ गए जिसकि वजह से झड़पें हुई। उन्होंने बताया कि देखते ही देखते सैकड़ों लोग विरोध में सड़कों पर उतर आए। उन्होंने बताया कि इन झड़पों में कई लोग घायल हुए हैं जिनमें आधा दर्जन से अधिक गंभीर रूप से घायल हैं।

कानपुर की जिलाधिकारी नेहा शर्मा ने बताया,''एक समुदाय विशेष के सदस्य विरोध में सड़क पर उतर आए और हिंसा में शामिल हो गए। कई लोग गंभीर रूप से घायल हो गए और उन्हें चिकित्सा सहायता के लिए भेजा गया। प्रभावित क्षेत्रों में भारी पुलिस बल तैनात किया गया है।'' उन्होंने बताया कि स्थिति पर कड़ी निगरानी रखने और यह सुनिश्चित करने के लिए सख्त निर्देश जारी किए गए हैं कि आगे कोई हिंसा न हो। उन्होंने कहा कि जांच शुरू कर दी गई है और कई लोगों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया है। उन्होंने बताया कि अभी तक हिंसा के सही कारणों की पुष्टि नहीं हुई है।
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Ramkesh

Related News

Recommended News

static