कानपुर एनकाउंटर पर बोले अखिलेश- BJP ने अपनी पोलपट्टी खुलने के डर से कराई मुठभेड़, निंदनीय

7/3/2020 12:42:34 PM

लखनऊः उत्तर प्रदेश के कानपुर में हिस्ट्रीशीटर बदमाश को पकड़ने गई पुलिस टीम पर बदमाशों ने हमला कर दिया। जिसमें एक पुलिस उपाधीक्षक समेत 8 पुलिसकर्मी शहीद हो गए, जबकि 7 घायल हैं। इसको लेकर समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर जोरदार हमला बोला है।

अखिलेश ने ट्वीट कर लिखा कि कानपुर की दुखद घटना में पुलिस के 8 वीरों की शहादत को श्रद्धांजलि! उप्र के आपराधिक जगत की इस सबसे शर्मनाक घटना में ‘सत्ताधारियों और अपराधियों ‘की मिलीभगत का ख़ामियाज़ा कर्तव्यनिष्ठ पुलिसकर्मियों को भुगतना पड़ा है। अपराधियों को जिंदा पकड़कर वर्तमान सत्ता का भंडाफोड़ होना चाहिए।

अगले ट्वीट में अखिलेश ने लिखा कि उप्र की भाजपा सरकार अपनी पोलपट्टी खुलने के डर से आनन-फ़ानन में मुख्य अपराधी को न पकड़कर छोटी-मोटी मुठभेड़ दिखाने का नाटक करवा रही है। इससे पुलिसकर्मियों का मनोबल और गिरेगा तथा पुलिस का आक्रोश भी बढ़ेगा। सरकार तुरंत मुआवज़ा घोषित करे व परिजनों को हर संभव संरक्षण दें। निंदनीय!

वहीं समाजवादी पार्टी ने ट्वीट किया है, ''रोगी सरकार' के जंगलराज में 'हत्या प्रदेश' बने उत्‍तर प्रदेश के कानपुर में दबिश के दौरान सत्ता संरक्षित अपराधियों द्वारा हमले में CO समेत 8 पुलिसकर्मि शहीद, अत्यंत दुखद! आत्मा को शांति दे भगवान! शोकाकुल परिजनों के प्रति संवेदना! 1-1 करोड़ मुआवजे का हो ऐलान। सत्ता कनेक्शन का हो पर्दाफाश!'

बता दें कि कानपुर में अपराधियों के साथ हुई मुठभेड़ में एक पुलिस उपाधीक्षक सहित यूपी पुलिस के 8 कर्मी शहीद हो गए। पुलिस ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। अधिकारियों ने बताया कि 2 और 3 जुलाई की मध्य रात्रि को चौबेपुर पुलिस थाने के अंतर्गत दिकरू गांव में पुलिस का दल आदतन अपराधी विकास दुबे को गिरफ्तार करने जा रहा था। उसी दौरान मुठभेड़ हो गई।अधिकारियों ने बताया कि पुलिस का एक दल अपराधी के ठिकाने के पास पहुंचने ही वाला था। उसी दौरान एक इमारत की छत से पुलिस दल पर अंधाधुंध गोलीबारी की गई जिसमें पुलिस उपाधीक्षक एस पी देवेंद्र मिश्रा, तीन उप निरीक्षक और चार कॉन्स्टेबल मारे गए।


Tamanna Bhardwaj

Related News