यूपी के सभी मंडलों में खुलेंगे ‘अटल आवासीय विद्यालय’, निर्माण श्रमिकों और कोरोना काल में अनाथ हुए बच्चों को मिलेगा प्रवेश

punjabkesari.in Friday, Mar 18, 2022 - 11:14 AM (IST)

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में निर्माण श्रमिकों के बच्चों और कोरोना काल में अनाथ हुए बच्चों को अटल आवासीय विद्यालयों में पढ़ने का अवसर मिलेगा। राज्य सरकार की ओर से गुरुवार को जारी बयान के अनुसार उत्तर प्रदेश में पहली बार सभी 18 मण्डलों में निर्माण श्रमिकों के बच्चों और कोरोना काल में अनाथ हुए बच्चों की शिक्षा व्यवस्था के लिए अटल आवासीय विद्यालयों का निर्माणकार्य युद्धस्तर पर चल रहा है।

सरकार ने ‘उत्तर प्रदेश अटल आवासीय विद्यालय शिक्षा योजना' के तहत इन दोनों श्रेणियों के बच्चों को कक्षा 06 से 12 तक की शिक्षा मुहैया कराने के लिए अटल आवासीय विद्यालयों व कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालयों में प्रवेश दिया जाएगा। इसमें 11 से 18 वर्ष तक के बच्चों को कक्षा-12 तक की मुफ्त शिक्षा भी दी जाएगी। अटल आवासीय विद्यालय स्थापित करने का निर्णय, सरकार की उपलब्धियों में मील का पत्थर साबित हुआ है। गौरतलब है कि विद्यालयों के निर्माण कार्य को तेजी प्रदान करते हुए अलीगढ़, अयोध्या, आजमगढ़, बस्ती, बरेली, चित्रकूटधाम, देवीपाटन, झांसी, कानपुर, लखनऊ, मेरठ, मीरजापुर, प्रयागराज, गोरखपुर, मुरादाबाद, आगरा, सहारनपुर और वाराणसी मंडल में जमीन चिन्हित कर ली गयी है।       

श्रमिक वर्ग के नागरिकों का विकास करने के लिए और उन्हें पढाई के महत्व को समझाने के लिए यूपी सरकार की ओर से यह योजना शूरू की गई है। अटल आवासीय विद्यालयों के निर्माण की जिम्मेदारी लोक निर्माण विभाग को सौंपी गयी है। इन विद्यालयों के निर्माण के लिए वित्तीय वर्ष 2019-20 में 180 करोड़ रुपये की धनराशि मार्च 2020 में विभाग को हस्तांतरित की गई। वर्तमान वित्तीय वर्ष में सभी 18 मण्डलों में बन रहे इन विद्यालयों के लिए सरकार ने 270 करोड़ रुपये का बजट भी विभाग को हस्तांतरित कर दिया है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Mamta Yadav

Related News

Recommended News

static