UP के अलग-अलग जिलों में फर्जी रुप से रह रहे 4 रोहिंग्या को ATS ने किया गिरफ्तार

6/18/2021 9:43:42 PM

लखनऊ:  उत्तर प्रदेश के आतंकवाद निरोधी दस्ते ने बुलंदशहर,अलीगढ़ और मेरठ जिले में अवैध रुप से रह रहे रोहिंग्या समुदाय गिरोह के चार सदस्यों को आज गिरफ्तार कर लिया। एटीएस ने बताया कि पुलिस महानिदेशक के निर्देश पर अपर पुलिस महानिदेशक कानून-व्यवस्था द्वारा चलाये जा रहे अभियान के दौरान एटीएस को विगत कई दिनों से सूचना प्राप्त हो रही थी कि कुछ लोग एक संगठित बनाकर मयांमार के रोहिग्याओं को बांग्लादेश एवं भारत की अतंराष्ट्रीय सीमा में अवैध रूप प्रवेश करा रहे हैं तथा बांग्लादेश में रिफ्यूजी कैंप में रोहिंग्याओं को प्रेरित कर उन्हें अवैध रूप से भारत में स्थापित करा रहे हैं। यह गिरोह देश विरोधी गतिविधियों में लिप्त है।       

उन्होंने बताया कि यह गिरोह मानव तस्करी करने के साथ-साथ अवैध रूप से वोटर काडर्, आधार काडर् तथा पासपोटर् तैयार कराने के साथ हवाला कारोबार में भी लिप्त था। उन्होंने बताया कि गिरोह के सदस्य फर्जी दस्तावेजों से भारतीय पहचान पत्र बनवाकर कंपनियों में नौकरिया लगाने के बदले तनख्वाह के पैसों से कमीशन भी लेते थे । उन्होंने बताया कि गिरोह के सदस्य अन्य देशो से व्यक्तियों को अवैध रूप से भारत में लाकर उनके कूटरचित दस्तावेजों को तैयार करा, उन्हें भारतीय नागरिक के रूप में प्रतिरूपित करने का काम भी करते थे।       

प्रवक्ता ने बताया कि इस सूचना पर एसटीएफ की टीम ने इलेक्ट्रानिक एवं भौतिक सविलांस के माध्यम से विकसित किया गया तो ज्ञात हुआ कि हाफिज शरीफ नाम का एक व्यक्ति अपने अन्य साथियों के साथ मेरठ में निवास कर रहा है,जिसके द्वारा गलत तथ्यों के आधार पर अवैधानिक रूप से भारत में रोहिंग्याओं के कूटरचित मूल्यवान भारतीय दस्तावेज जिसमें आधार, वोटर आईडी, पासपोटर् आदि बनाये तथा भारतीय पासपोटर् से विदेशों में यात्राएं भी की गयी हैं । उन्होंने बताया कि हाफिज शरीक का एक संगठित गिरोह है, जो अनवरत रूप से आपराधिक कृत्यों में संलिप्त है और लगातार रोहिंग्याओं को अवैध रूप से भारत में लगाकर उन्हें भारतीय नागरिक के रूप में स्थापित कर रहा हैं।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Moulshree Tripathi

Recommended News

static