सदियों का इंतजार खत्म,आ गयी राम मंदिर निर्माण की शुभ घड़ी

8/4/2020 6:50:17 PM

अयोध्या: आस्था और  रामभक्तों का सदियों पुराना सपना बुधवार को साकार होने जा रहा है जब शंखनाद और घंटा घड़यिाल की ध्वनि और वैदिक मंत्रोच्चार के बीच पौराणिक नगरी अयोध्या में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भव्य राम मंदिर का भूमि पूजन करेंगे। भाद्रपद में शुक्ल पक्ष की द्वितीया को अयोध्या नरेश दशरथ के महल में भगवान विष्णु के अवतार श्रीराम ने मां कौशाल्या के गर्भ से जन्म लिया था। बुधवार को भूमि पूजन का माह तिथि श्रीराम के जन्म के समय की होगी जब प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भव्य राम मंदिर का भूमि पूजन वैदिक मंत्रोच्चार के बीच करेंगे और इसी के साथ 500 वर्षो के लंबे इंतजार के बाद राम मंदिर का निर्माण शुरू हो जायेगा।मंदिर का यथार्थ स्वरूप देने में शिल्पकारों को करीब ढाई वर्ष का समय लगने की संभावना है। 

इस ऐतिहासिक घड़ी के लिये अयोध्या नगरी सज-संवर कर तैयार हो गयी है। बाईपास राम पैड़ी से लेकर पूरे नगर को रंग बिरंगी झालरों और भगवा झण्डे से सजाया गया है, जिसकी शोभा देखती ही बन रही है। समूचे पौराणिक नगर को शुभ के प्रतीक पीले रंग से रंगा गया है। दीवारों पर रामायण कालीन चित्र उकेरे गये हैं जो त्रेता युग को अदभुद वर्णन कर रहे हैं। अयोध्या में चहुंओर रामनाम की धुन बज रही है। अनेको स्थान पर अखंड रामचरित मानस का पाठ चल रहा है। श्रीरामजन्मभूमि पर भव्य मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आगमन को लेकर रामनगरी में काफी उत्साह है। चारों ओर इस खुशी में दीपक जलाये जा रहे हैं। जगह-जगह अनुष्ठान चल रहा है। हर कोई इस खुशी के पल में शामिल होना चाहता है। अयोध्या और फैजाबाद के दोनों शहरों में लाउडस्पीकर लगाये गये हैं जिससे जन्मभूमि पर भूमि पूजन की आवाजें हर व्यक्ति के कान में गूंजती रहें। शहर में जगह-जगह पर लड्डू बनाये जा रहे हैं। भूमि पूजन के बाद इस लड्डू को पूरे देश में बांटा जायेगा। लोगों में इतनी खुशी है कि अपने-अपने घरों में राम महोत्सव के पर्व पर दीपावली भी मना रहे हैं।

मोदी बुधवार सुबह विशेष विमान ने यहां 1130 बजे कामता सुंदरलाल साकेत महाविद्यालय में बने अस्थायी हेलीपैड पर उतरेंगे और 1140 पर प्रसिद्ध हनुमानगढ़ी मंदिर पहुंचकर पूजा करेंगे। दस मिनट पूजा करने के बाद 1200 बजे सीधे रामजन्मभूमि परिसर पहुंचेंगे जहां अस्थायी मंदिर में विराजमान रामलला का दर्शन-पूजन करेंगे। सवा 12 बजे वह रामजन्मभूमि परिसर में पारिजात के पौधे का रोपण करेंगे जिसके बाद भूमि पूजन कार्यक्रम का शुभारंभ किया जायेगा। इसके बाद 1240 पर प्रधानमंत्री मंदिर की आधारशिला रखी जायेगी। श्री मोदी दो बजकर पांच मिनट पर पुन: साकेत कालेज में हेलीकाप्टर के लिये प्रस्थान करेंगे जहां पर वह 1420 पर लखनऊ के लिये रवाना हो जायेंगे।

 


Edited By

Ramkesh

Related News