CM सिटी गोरखपुर में पुलिस पिटाई से व्यापारी की मौत मामले में बड़ी कार्रवाई, छह पुलिसकर्मी निलंबित

punjabkesari.in Tuesday, Sep 28, 2021 - 07:26 PM (IST)

गोरखपुर: उत्तर प्रदेश के कानपुर के एक 36 वर्षीय रियल एस्टेट व्यवसायी की यहां रामगढ़ ताल इलाके के एक होटल में चेकिंग के दौरान कथित तौर पर पिटाई के बाद मौत हो गई । पुलिस ने इसकी जानकारी दी। पुलिस ने बताया कि इस मामले में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने छह पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया है। गौरतलब है कि पीड़ित मनीष अपने दो दोस्तों के साथ होटल में ठहरा था और कानपुर से आई उसकी पत्नी ने पुलिस के खिलाफ मारपीट का आरोप लगाते हुए कहा कि पिटाई से सोमवार रात उसकी मौत हो गई। हालांकि पुलिस ने इस आरोप से इनकार किया है और कहा कि नशे की हालत में जमीन पर गिरने से उसके सिर में चोट आई थी। पुलिस ने बताया कि घटना सोमवार आधी रात की है जब रामगढ़ ताल पुलिस इलाके की नियमित जांच कर रही थी और वे जांच करने थाने से थोड़ी दूरी पर एक होटल में भी गए थे। होटल में पुलिस ने पाया कि गोरखपुर के सिकरीगंज क्षेत्र के महादेवा बाजार के चंदन सैनी के पहचान पत्र (आईडी) पर तीन लोग ठहरे हुए थे, जब पुलिस को शक हुआ तो वह उस कमरे में जांच करने गए जहां रियल एस्टेट कारोबारी मनीष अपने दो दोस्तों प्रदीप चौहान और गुरुग्राम के हरि चौहान के साथ ठहरा था । 

उन्होंने बताया कि पुलिस उसे बीआरडी मेडिकल कॉलेज ले गई जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। इस बीच पीड़ित की पत्नी मीनाक्षी गुप्ता और उसके पिता नंद किशोर गुप्ता ने पत्रकारों से बात करते हुए पुलिस पर मनीष की पिटाई का आरोप लगाया। मीनाक्षी ने ट्विटर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से पुलिसकर्मियों के खिलाफ मामला दर्ज करने और उन्हें निलंबित करने की भी अपील की है। मनीष के दो दोस्त पुलिस हिरासत में हैं और उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि वे रियल एस्टेट के कारोबारी हैं और वे अपने दोस्त चंदन के बुलावे पर कारोबारी काम से गोरखपुर आए थे । गोरखपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) ने रामगढ़ ताल के थाना प्रभारी जेएन सिंह और फल मंडी थाना प्रभारी अक्षय मिश्रा समेत छह पुलिसकर्मियों को निलंबित कर नगर पुलिस अधीक्षक को मामले की जांच सौंपी है। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Ramkesh

Related News

Recommended News

static