बड़ी पहलः 15 से 20 लाख श्रमिकों को रोजगार देने की तैयारी में योगी सरकार

punjabkesari.in Sunday, May 03, 2020 - 05:17 PM (IST)

लखनऊः उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लाॅकडाउन-3 के दाैरान राज्य में काम धंधा शुरू करने के लिये एक कार्ययोजना बनाकर एडवाइजरी जारी करने के निर्देश दिए है। जिसके चलते अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने कहा कि जिन श्रमिकों की घर वापसी हो रही है उनको स्थानीय स्तर पर उनकी दक्षता के अनुरूप ही काम दिया जाए। इसके लिए आने वाले हर श्रमिक का मोबाइन नंबर और उसकी विशेषज्ञता को एकत्र कर लिया जाए। दूसरे प्रदेशों से वापस आने वाले श्रमिकों की संख्या 15 से 20 लाख तक होगी।

उन्होंने बताया कि सीएम के निर्देश के क्रम में जिन राज्यों से श्रमिकों को लाना है, वहां की सरकारों से संपर्क किया जा रहा है। उनकी सूची के अनुसार ही स्वास्थ्य परीक्षण के बाद उनको लाने के बाद क्वारंटीन किया जाएगा। क्वारंटीन सेंटर की व्यवस्था ठीक हो इसके लिए हर जिले में एक नोडल अधिकारी नियुक्त होगा।

अपर मुख्य सचिव ने बताया कि 16 लाख सरकारी कर्मचारियों को वेतन और 12 लाख रिटायर्ड कर्मचारियों को पेंशन दी जा चुकी है। मुख्यमंत्री के निर्देश पर हमारा हर संभव प्रयास है कि कोरोना का संक्रमण चिकित्सकों और पैरा मेडिकल स्टॉफ में न फैले।

योगी ने रविवार को अपने सरकारी आवास पर आहूत एक उच्चस्तरीय बैठक में लाॅकडाउन व्यवस्था की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि लाॅकडाउन-3 के दौरान राज्य में काम धंधाें को संचालित करने के लिये एक कार्ययोजना बनाकर एडवाइजरी जारी की जाए। उन्होंने अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त को लेबर रिफार्म पर कार्ययोजना बनाए जाने के निर्देश देते हुए कहा कि लाभार्थियों के बैंक खाते में भरण-पोषण भत्ते की धनराशि यथाशीघ्र अन्तरित कराई जाए।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Tamanna Bhardwaj

Related News

Recommended News

static