अमेठी में योगी का ऐलान- बेसहारा गायों को पालने वाले किसानों को प्रति गाय 1000 रुपये की आर्थिक सहायता देगी BJP

punjabkesari.in Wednesday, Feb 23, 2022 - 08:28 PM (IST)

अमेठी: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को गायों को कटने नहीं देने और किसानों की फसलों को बचाने का वादा करते हुए कहा कि बेसहारा गायों को अपनाने और पालने वाले किसानों को प्रति गाय 900 से 1000 रुपये प्रति माह की आर्थिक सहायता दी जाएगी।

 

अमेठी के तिलोई विधानसभा क्षेत्र में एक रैली को संबोधित करते हुए, योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हमारी सरकार ने अवैध बूचड़खानों को पूरी तरह से बंद करा दिया है। उन्होंने कहा, ‘‘मैं वादा करता हूं कि हम गोमाता को कटने नहीं देंगे और किसानों के खेतों को छुट्टा पशुओं से भी बचाएंगे। उन्होंने कहा कि गायों और किसानों की रक्षा के लिए बड़े पैमाने पर 'गौशालाएं' बनाई जाएंगी। योगी ने सपा प्रमुख अखिलेश यादव पर उनकी पार्टी और अहमदाबाद विस्फोट के दोषियों में से एक के परिजन के बीच कथित "संबंध" पर "चुप्पी बनाए रखने" का आरोप लगाया। उन्होंने फिर दोहराया कि "आतंकवादी का परिवार समाजवादी पार्टी का प्रचार कर रहा है।"

सपा पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि 2017 में हमारी सरकार ने जो पहला फैसला लिया वह फसल उत्पादकों का कर्ज माफ करने का था। उन्होंने कहा कि इसके विपरीत सपा सरकार ने राम जन्मभूमि पर हमला करने वाले ‘आतंकवादियों' के खिलाफ दर्ज मामलों को वापस लेने के लिए कदम उठाया था। उन्होंने कहा कि सपा का समर्थन करने का अर्थ है आतंकवाद को बढ़ावा देना, सपा को दिया जाने वाला वोट आने वाले भविष्य को बर्बाद करने जैसा है। पूर्व की सपा सरकार पर एक समुदाय विशेष का पक्ष लेने का आरोप लगाते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में ईद और मुहर्रम पर बिजली की आपूर्ति की जाती थी, लेकिन होली और दिवाली पर बिजली काट दी जाती थी।

योगी ने कहा कि उनकी सरकार ने युवाओं को पांच लाख सरकारी नौकरी प्रदान की। उन्होंने सपा पर हमला बोलते हुए कहा कि विकास उनके एजेंडे में कभी नहीं रहा। यह भी कहा कि सपा, बसपा और कांग्रेस की राजनीति का आधार जाति, वोट और धर्म है। अपनी सरकार के विकास कार्यों को बताते हुए मुख्यमंत्री ने कहा,“तिलोई को एक मेडिकल कॉलेज भी मिला है। हमने उस मेडिकल कॉलेज की आधारशिला रखी है। समाजवादी पार्टी यह मेडिकल कॉलेज नहीं दे सकती क्योंकि उसके पास विकास की दृष्टि ही नहीं है।''


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Mamta Yadav

Related News

Recommended News

static