BJP महिला पदाधिकारी ने लगाया शोषण का आरोप, कहा-पार्टी के महानगर अध्यक्ष गलत जगह छूते हैं

9/24/2020 2:30:14 PM

अलीगढ़: महिलाओं की हितैषी कहे जाने वाली बीजेपी पार्टी की महिला नेत्री ने अपने ही वरिष्ठ पदाधिकारी पर शोषण का आरोप लगाया है। अलीगढ़ के थाना देहली गेट इलाके के उस्मानपाड़ा निवासी बीजेपी महिला नेत्री फरहीन मोहसीन का आरोप है कि बीजेपी अल्पसंख्यक मोर्चा के महानगर अध्यक्ष इमरान अलीम सैफी ने गलत नियत रखते हुए शोषण किया। विरोध करने पर उसके घर गुंडों द्वारा हमला करा दिया गया। यह पूरी वारदात सीसीटीवी में कैद हो गई है। फिलहाल पीड़िता प्रदेश के मुखिया योगी और देश के मुखिया मोदी से न्याय की गुहार लगा रही है।

PunjabKesari

फरहीन मोहसीन ने बताया कि ‘‘मैं 2013 से भाजपा की सक्रिय सदस्य हूं और अल्पसंख्यक मोर्चा के महानगर अध्यक्ष इमरान अलीम सैफी की टीम में महानगर मंत्री के पद पर हूं। मैं भाजपा के लिए काम करती हूं जो क्षेत्र के कुछ लोगों को रास नहीं आता है। ये लोग नहीं चाहते हैं कि मैं भाजपा के लिए काम करूं। बस इसी बात को लेकर ये लोग मुझे तरह तरह से प्रताडि़त करते हैं। मेरे कारोबार को इन लोगों ने पूरी तरह से बर्बाद करवा दिया। पिछले साल मेरे पति के साथ मारपीट की गई थी। अब फिर 21 तारीख को मेरे और मेरे पति के साथ मारपीट की गई है। मुझे धमकी मिलती है कि तुम यहां भाजपागीरी नहीं दिखा सकती हो। मेरे साथ बैठे लोग जो कि इमरान अलीम सैफी के साथ काम करते थे अब मेरे साथ आ गए हैं। उनकी गंदी हरकतों को देखकर सभी लोग आज मेरे साथ खड़े हैं। इमरान अलीम सैफी की गंदी नीयत मेरे ऊपर थी। वो मुझसे कहते थे कि तुम मेरी बात मान लोगी तो मैं तुम्हें कहीं से कहीं पहुंचा दूंगा। जब मैंने उनकी बात नहीं मानी तो उन्होंने मुझे अपनी टीम से बाहर कर दिया।’’

PunjabKesari

फरहीन मोहसीन ने बताया कि ‘‘पार्टी के जो भी कार्यक्रम या मीटिंग हुआ करती थीं उनके खत्म हो जाने के बाद अकेले में रोक लिया करते थे। इतना ही नहीं वह गलत नीयत से मुझे गलत जगह छूते थे। मेरे हाथ पकड़ लेते थे। जब उनकी हरकत मुझे महसूस हुई तो हमने उनका साथ छोड़ दिया। ’’

पुलिस कंप्लेन क्यों नहीं कि के सवाल पर फरहीन मोहसीन ने बताया कि ‘‘मैं पुलिस कंप्लेन से अच्छा उनका साथ छोडऩा बेहतर समझा। इमरान अलीम सैफी अब उन लोगों से मिल गए हैं जो हमारे ऊपर हमला करते हैं। जब मैं उन लोगों पर मामला दर्ज कराती हूं तो इमरान अलीम सैफी उन लोगों को थाने से छुड़वा देते हैं। फिछले साल भी हमला हुआ था इसलिए हमें डर है कि कहीं न कहीं ये लोग मेरे साथ कोई वारदात न करा दें। ये लोग मुझसे पैसे की डिमांड करते हैं और मैं जब इनकी बात नहीं मानती तो तरह तरह के मुकदमें में फंसाने की धमकी देते हैं। इन सभी बातों से परेशान होकर मीडिया के समक्ष आना पड़ा है।’’

महिला नेत्री फरहीन ने पार्टी की नीतियों और लोगों की बड़ाई करते हुए कहा कि इस तरह के लोग पार्टी को बदनाम करने का काम कर रहे हैं। आज प्रदेश के मुखिया योगी आदित्यनाथ और देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्व न्याय की गुहार लगा रही है। इस पूरे मामले को पार्टी के प्रमुखों के संज्ञान में भी मेल के जरिये डाल रही है।


Ajay kumar

Related News