बुंदेलखंड की धरती से भाईचारे का संदेश, राम जानकी मंदिर और जामा मस्जिद ने हटाया लाउडस्पीकर

punjabkesari.in Tuesday, Apr 26, 2022 - 11:00 AM (IST)

झांसी: उत्तर प्रदेश में चल रहे लाउडस्पीकर विवाद को लेकर झांसी जिले के लोगों ने एक बड़ा संदेश दिया है। दरअसल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अपील करने के बाद राम जानकी मंदिर के पुजारी और जामा मस्जिद के इमाम ने आपसी रजामंदी से लाउडस्पीकर को हटा दिया। मंदिर के पुजारी  शांति मोहन दास और मस्जिद के इमाम हाफिज मोहम्मद ताज आलम ने बताया कि उन्होंने संयुक्त रूप से दशकों से लगे लाउडस्पीकर को हटाने का फैसला किया, ताकि समाज में एक सांप्रदायिक सौहार्द का संदेश भेजा जा सके।

बता दें कि जिले के बड़ागांव कस्बे  के गांधी चौक पर राम जानकी मंदिर और जामा मस्जिद दोनों एक ही पास में है। इतना ही नहीं कई सालों से दोनों मंदिर और मस्जिद में आरती और अजान की परंपरा चली आ रही थी। शांति मोहन दास ने कहा कि प्रेम और भाईचारे का संदेश देने के लिए यह फैसला लिया गया।  उन्होंने कहा कि अब बिना लाउडस्पीकर के सुबह शाम आरती हो रही है। साथ भी भजन का कार्यक्रम भी शांतिढंग से किया जा रहा है।
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Imran

Related News

Recommended News

static