राष्ट्रद्रोह के आरोप में कंगना के खिलाफ वाद दाखिल, 25 नवंबर को होगी सुनवाई

punjabkesari.in Tuesday, Nov 23, 2021 - 05:41 PM (IST)

आगरा: बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत ने बीते दिनों आजादी वाले बयान को लेकर उनकी मुसीबते बढ़ती जा रही हैं। आगरा के एक अधिवक्ता ने भारत देश को 1947 में मिली आजादी को भीख बताने के आरोप में कंगना और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ परिवाद पत्र दाखिल किया है।

आगरा के अधिवक्ता रमाशंकर शर्मा ने आजादी को भीख बताने को लेकर वाद दाखिल किया है। वहीं, सीजेएम कोर्ट ने इस मामने की सुनवाई करने के लिए 25 नवंबर की तारिख तय की है। उन्होंने आरोप लगाया है कि अभिनेत्री कंगना द्वारा राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के प्रति अपशब्द कहकर देश में अराजकता का माहौल पैदा करने की पोस्ट को देखा व पड़ा। इसमें अभिनेत्री का बयान ‘आजादी भीख में मिली थी’ भी शामिल था। कंगना के इतने बड़े बयान के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चुप रहे, इसके कारण पीएम मोदी को भी शामिल किया गया है।

गौरतलब है कि बीते दिनों कगंना ने कहा था कि 1947 में तो भारत को भीख में ही आजादी दे दी गई थी। उसके बाद आई कांग्रेस सरकार भी अंग्रेजों की एक्सटेंशन रही। देश को असल आजादी 2014 के बाद मिली। कंगना के इसी बयान पर बवाल खड़ा हुआ और कांग्रेस नेता पूर्व मंत्री नसीम खान ने एक्ट्रेस पर देशद्रोह का मामला दर्ज करने की मांग की। इसके कारण पीएम मोदी को भी शामिल किया गया है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tamanna Bhardwaj

Related News

Recommended News

static