छत्तीसगढ़ के CM भूपेश बघेल का दावा- UP में अगली सरकार कांग्रेस की बनेगी

punjabkesari.in Thursday, Nov 18, 2021 - 09:52 AM (IST)

बांदा: छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि उत्तर प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनाव कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के नेतृत्व में लड़ा जा रहा है जिसका परिणाम राज्य में कांग्रेस की सरकार बनना होगा। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के पर्यवेक्षक बघेल ने बुधवार को यहां पत्रकारों बातचीत में चुनाव में राज्य में कांग्रेस की सरकार बनने का दावा करते हुये कहा कि छत्तीसगढ़ की तर्ज पर उत्तर प्रदेश के किसानों को भी सुविधाएं मुहैया कराकर उनकी समस्याओं का समाधान किया जायेगा।

उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ में कांग्रेस नेता राहुल गांधी द्वारा चुनाव पूर्व किये गये वादों को उनकी सरकार बनने पर शपथ लेते ही पूरा किया गया। राहुल ने वर्ष 2018 के छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव में किसानों की ऋण माफी का वादा किया था। बघेल ने कहा कि छत्तीसगढ़ में सरकार बनते ही 18 लाख से अधिक किसानों का 9000 करोड़ रुपए का ऋण माफ कर दिया गया। उन्होंने कहा कि गाय के नाम पर वोट मांगने वाली भाजपा सरकार के कार्यकाल में गायों की मौतें हो रही है। अन्ना मवेशियों से फसल बचाना मुश्किल हो गया। किसान रात रात भर जागने को मजबूर है। वहीं दूसरी ओर छत्तीसगढ़ में गोधन न्याय योजना शुरू की गई है।

बघेल ने कहा कि इस योजना के तहत 750 सौ से अधिक गोधान बनाए गए। इनमें गोपालकों से दो रुपए किलो की दर पर गोबर खरीदा गया। प्रतिवर्ष 54 लाख टन गोबर खरीदा गया। इससे 109 करोड़ रुपए गोपालकों के खाते में पहुंचे और 12 लाख कुंतल वर्मी कंपोस्ट खाद बनाई बनाया गया। जिसे 10 रुपये प्रति किलो के साथ किसानों को उपलब्ध कराया गया। इससे कृषि उत्पादन भी बढ़ा और अन्ना मवेशियों की समस्या समाप्त हो गई।

उन्होंने कहा कि भाजपा ने किसानों की आय दोगुनी करने का वादा किया। मगर, किसान पूरी तरह से बर्बाद हो चुका है और आंदोलनरत है। बघेल ने कहा कि उत्तर प्रदेश में भी कांग्रेस की सरकार बनते ही किसानों का धान और गेहूं 2500 रुपए प्रति क्विंटल और गन्ना 400 रूपये प्रति क्विंटल की कीमत पर खरीदा जाएगा। साथ ही किसानों के कर्ज और बिजली के बिल माफ होंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश की जनता को विश्वास हो गया है कि छत्तीसगढ़ में समस्याओं का समाधान हुआ है इसलिये यह प्रदेश में भी समस्याओं से मुक्त हो सकता है। उन्होंने कहा कि राज्य में रबी की फसल के लिए रासायनिक खाद की किल्लत है। कोयले की कमी से पावर प्लांट बंद हो गए हैं। खाद के अभाव का केंद्र सरकार के पास कोई जवाब नहीं है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tamanna Bhardwaj

Related News

Recommended News

static