श्रमिकों की पुत्रियों के सामूहिक विवाह में शामिल हुए CM योगी, नवदंपत्तियों को दिया आशीर्वाद

2/15/2021 6:45:07 PM

मुरादाबाद: उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद मंडल के निर्माण श्रमिकों की 2754 बेटियों का सामूहिक विवाह सोमवार को संपन्न हुआ जिसमें 1580 हिन्दू, 1063 मुस्लिम,109 बौद्ध, तथा एक एक सिख ईसाई समुदाय के जोड़े शामिल थे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नवदंपत्तियों को आशीर्वाद दिया।       

योगी ने कहा कि सामूहिक विवाह योजना बेहतर है, इसके माध्यम से सवा लाख कन्याओं का विवाह कराया जा चुका है। जोड़ों को प्रदेश सरकार की शुभकामनाएं हैं, सामूहिकता ही भारतीयता की पहचान है, जीवन में सामूहिकता का महत्व है, और सामूहिकता का यह जीता जागता आयोजन है।  उन्होंने कहा कि वैश्विक महामारी से बचाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लॉकडाउन का निर्णय लिया। उनके नेतृत्व में आज देश सुरक्षित है। 54 लाख मजदूरों को कोरोना काल में भत्ता दिया गया। कोरोना काल में कोई भी भूखा नहीं सोया। राष्ट्र का निर्माण करने वालों श्रमिक मजदूरों की पूरी व्यवस्था सरकार करेगी, इसके अलावा श्रमिकों के बच्चों का पूरा खर्च भी सरकार उठाएगी।

सामूहिक विवाह कार्यक्रम में युवक और युवतियों के आठ आठ परिजन समारोह में शामिल हुए। आयोजन स्थल पर बनाए गए 26 सेक्टर में निर्माण श्रमिकों ने एक दूसरे के साथ जीवन बिताने का संकल्प लिया। घराती और बरातियों के लिए पकवान तैयार कराए गए थे। समारोह में दोपहर करीब डेढ़ बज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मंच पर पहुंचे। उन्होंने सबसे पहले 100 करोड़ की 36 योजनाओं का लोकार्पण किया, जबकि 12 योजनाओं का शिलान्यास किया। लोकार्पण और शिलान्यास के पश्चात उन्होंने उपस्थित लोगों को संबोधित किया। इस दौरान सुरक्षा व्यवस्था पुख्ता रही।

आयोजन में मुरादाबाद जनपद के प्रभारी तथा उत्तर प्रदेश के जलशक्ति मंत्री डा.महेंद्र सिंह ने अपने संबोधन में कहा कि उत्तर प्रदेश देश का नंबर एक प्रदेश बनेगा। विकास कार्यों को लेकर उत्तर प्रदेश की पूरे देश में चर्चा हो रही है क्योंकि प्रदेश में एक से बढ़कर एक बड़े परिवर्तन हो रहे हैं। वैश्विक महामारी कोविड-19 के दौरान भी विकास कार्य नहीं थमे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 46 लाख किसानों का ऋण माफ किया है। चार लाख नौजवानों को नौकरी मिली है। निजी क्षेत्र में भी बेरोजगारों को नौकरी दी गई है। योगी आदित्यनाथ बनना हर एक के बस की बात नहीं है।

समारोह में उत्तर प्रदेश के श्रम एवं सेवायोजन मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य, मंत्री बलदेव सिंह औलख, नगर विधायक रीतेश गुप्ता, विधायक संगीता चेतन चौहान, बदायूं की सांसद संघमित्रा मौर्य इसके अलावा आयोजन में कई अन्य मंत्री और विधायक पूर्व सांसद भी शामिल हुए। सर्किट हाउस के समीप बुद्धि विहार फेस-दो में निर्माण श्रमिकों की बेटियों की सामूहिक शादी के लिए व्यवस्थाएं की गईं थी। पिछले पांच दिन से टेंट लगाने का काम चल रहा था। पंडित के अलावा मौलाना और अन्य धर्मों के वैवाहिक कार्यक्रम कराने वाले धर्मगुरु भी पहुंचे थे। सुबह दस बजे से पहले ही सामूहिक शादी के कार्यक्रम में दूल्हा और दुल्हन का अपने परिवार समेत पहुंच चुके थे। कार्यक्रम स्थल पर खाने की व्यवस्था की गई थी। वीआइपी के लिए खाने का अलग से इंतजाम किया गया था।

 


Content Writer

Umakant yadav

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static