UP elections 2022: दिवाली बाद गोरखपुर से शुरू होगी कांग्रेस की चौथी प्रतिज्ञा यात्रा

punjabkesari.in Sunday, Oct 24, 2021 - 04:38 PM (IST)

लखनऊ: उत्तर प्रदेश 2022 विधानसभा चुनाव में अकेले दम पर उत्तर प्रदेश में सरकार बनाने का ख्वाब देखने वाली कांग्रेस दीवाली के बाद पूर्वांचल की जनता से संपर्क साधने के लिए चौथी परिवर्तन यात्रा की शुरूआत करेगी। पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रदीप जैन आदित्य,पूर्व सांसद राकेश सचान और पूर्व सांसद पी.एल. पुनिया ने कहा कि मौजूदा समय में तीन स्थानों से प्रतिज्ञा यात्रा शुरू हो चुकी है जबकि चौथी यात्रा का शुभारंभ गोरखपुर से दीपावली के बाद किया जाएगा।  उन्होंने बताया कि बाराबंकी से प्रारंभ हुयी यात्रा लखनऊ, उन्नाव, फतेहपुर, चित्रकूट, बांदा, हमीरपुर, जालौन होते हुए एक नवंबर को झांसी में संपन्न होगी। सहानपुर से शुरू हुयी यात्रा मुजफ्फरनगर, बिजनौर, मुरादाबाद, रामपुर, बरेली, बदायूं, अलीगढ़, हाथरस, आगरा से निकलते हुए मथुरा में संपन्न होगी। इसी क्रम में बनारस से निकली यात्रा चंदौली, मिज़रपुर, सोनभद्र, प्रयागराज, प्रतापगढ़, अमेठी से होते हुए रायबरेली में संपन्न होगी।

 यात्रा का मकसद कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा की सातों प्रतिज्ञाओं को जन-जन तक पहुंचाने का है। कांग्रेस की विजय सेना उत्तर प्रदेश के पुराने गौरव व वैभव को पुनर्स्थापित करने के लिये प्रतिबद्ध है। यात्रा के प्रथम दिन में ही योगी सरकार की नीतियो से परेशान हो चुकी जनता में यात्रा को लेकर उत्साह देखने को मिला है, उससे स्पष्ट है कि जनता का आशीर्वाद कांग्रेस को प्राप्त होने जा रहा है। उन्होने कहा कि बेरोजगारी, हत्या, अपराध, दुष्कर्म व सत्ता प्रायोजित अपराधों के विरुद्ध श्रीमती वाड्रा जिस तरह न्याय के लिये संघर्ष पथ पर हैं उससे जनता का भरोसा कांग्रेस के साथ देखने को मिलने लगा है।

उन्होंने लखीमपुर किसानों की हत्या के साथ लखीमपुर में ही धान की उपज को मंडी में आग के हवाले करने की घटना का उल्लेख करते हुए राज्य की किसान विरोधी नीति पर हमला कर कहा कि ललितपुर में खाद लेने के लिये लाइन में खड़े व्यक्ति की मौत सरकारी कुव्यवस्था का प्रमाण है। कांग्रेस ने देश के सर्वोच्च पद, लोकसभा के अध्यक्ष, राज्यों के मुख्यमंत्री और राज्यों के प्रदेश अध्यक्ष के पद पर महिलाओं को बिठाकर उन्हें शक्ति देने का कार्य किया है। कांग्रेस का लक्ष्य है कि ज्यादा से ज्यादा महिलाएं मुख्य धारा में आएं। उन्होंने योगी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कार्यकाल में जिस तरह से महिलाओं का उत्पीड़न किया गया है, उनके प्रति हिंसा के आंकड़े बढ़े हैं, उससे महिलाओं में भय व्याप्त है। यह यात्रा इस सत्ता को उखाड़ फ़ेंकने में मील का पत्थर साबित होगी।

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Ramkesh

Related News

Recommended News

static