पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी के खिलाफ कांग्रेस कार्यकर्ताओं का प्रदर्शन

6/29/2020 3:38:47 PM

मेरठः मेरठ के जिला एवं महानगर कांग्रेस कमेटी के कार्यकर्ताओं ने पेट्रोल और डीजल की कीमतों में वृद्धि के विरोध में सोमवार को कलेक्ट्रेट पर धरना प्रदर्शन किया। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने उत्तर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू के आह्वान पर जिलाधिकारी मेरठ कार्यालय के बाहर प्रदर्शन करने के बाद डीजल पेट्रोल के दामों में की गई वृद्धि को तत्काल वापस लेने की मांग से संबंधित एक ज्ञापन भी सौंपा जो राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को संबोधित था। इस ज्ञापन में कहा गया है कि देश की अर्थव्यवस्था पिछले काफी समय से बहुत ही निम्न स्तर पर थी।

कोविड-19 के कारण अर्थव्यवस्था पूरी तरह चरमरा गई है। लोगों की नौकरियां समाप्त हो गयी हैं। अधिकतर लोग बेरोज़गार हो गए हैं। इस लॉकडाउन में बाज़ार, उत्पादन, आदि सभी आर्थिक व व्यापारिक गतिविधियों बंद ही रही। सभी सेक्टर में मज़दूरों के पलायन से उद्योग धंधा बुरी तरह प्रभावित हुआ है। ऐसे में कोविड-19 महामारी के संकट में केंद्र की भाजपा सरकार द्वारा पेट्रोल व डीजल की कीमतों को लगातार बढ़ाने ने लोगों की मुश्किलें और बढ़ गई हैं। ज़िला अध्यक्ष अवनीश काजला ने इस मौके पर कहा कि अंतराष्ट्रीय बाज़ार में कच्चे तेल की कीमत न्यूनतम है।

उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा की केंद्र सरकार ने पेट्रोल व डीजल को खज़ाना भरने का साधन बना लिया है। लोगो को जहां ऐसे समय घर का चूल्हा जलाने में दिक्कतें आ रही हैं, वहीं इन पदार्थों के मूल्य बढ़ने से लोगों का आर्थिक बोझ बढ़ता जा रहा है जिससे जनता में रोष है। उन्होंने कहा कि यही नहीं डीजल के कारण परिवहन व किसानों की खेती बुरी तरह प्रभावित हो रही है। किसानों की आय दुगुना करने की बात कहने वाली भाजपा सरकार ने किसानों की लागत बढाकर विकट समस्या खड़ी कर दी है। आमजन, किसानों व मध्यमवर्ग आदि को व्यापार, नौकरी व खेती करने में कठिनाई हो रही है। 


Tamanna Bhardwaj

Related News