कोरोना महामारी: कोर्ट के आदेश के बाद यूपी की विभिन्न जेलों से रिहा किए गए कैदी

3/31/2020 9:58:17 AM

मथुरा: कोरोना वायरस को लेकर सोशल डिस्टेंस को ध्यान में रखते हुए सुप्रीम काेर्ट ने उत्तर प्रदेश के जेलों में बंद कैदियों की रिहाई के आदेश दिए थे। कोर्ट के आदेश के बाद मंगलवार को प्रदेश के विभिन्न जेलों में बंद 7 साल से कम सजायाफ्ता आैर विचाराधीन कैदियों को रिहा कर दिया गया। मथुरा जिला कारागार से 32 बंदियों को रिहा किया गया है जिसमें एक महिला किन्नर भी शामिल है। बता दें कि इन सभी काे 8 सप्ताह के अंतरिम जमानत पर रिहा किया गया है।

किस जिले से कितने कैदी हुए रिहा-
फरुर्खाबाद-65
फतेहपुर-60
कोशांबी-43
प्रयागराज-36
बुलंदशहर-135 विचाराधीन कैदी रिहा। 


PunjabKesari

मथुरा के 32 बंदियों को छोड़ा गया
मथुरा जेल अधीक्षक  शैलेंद्र मैत्रेय ने बताया कि आज न्यायालय के निर्देशन में डिस्ट्रिक्ट कोर्ट के न्यायाधीश एडीजी रैंक के और एक सीजीएम रैंक के अप्रूवल के बाद 32 बंदियों को छोड़ा गया है। जिसमें एक महिला किन्नर भी शामिल है। जिन लोगों की 7 साल से ज्यादा सजा नहीं है उन लोगों की रिहाई के आदेश हुए हैं। कोरोनावायरस के कारण जेल में बंदी कम हो सकें  और डिस्टेंडिंग कम हो सके इसकी वजह से कैदियों को रिहा किया गया है। 

PunjabKesari
जितनी ज्यादा जेल में जगह होगी बंदी उतने ही सेफ
जेल अधीक्षक ने कहा इस जेल में क्षमता से 3 गुना अधिक बंदी हैं। जितनी ज्यादा जेल में जगह होगी बंदी उतने ही सेफ रहेंगे। अभी हमारे पास 200 बंदी और हैं जो रिहा हो सकते हैं। उन 200 बंदियों पर विचार किया जा रहा है। अगर वह भी पात्र होंगे तो रिहा किए जाएंगे। ये सभी रिहा होने वाले लोग खुशी महसूस कर रहे हैं क्योंकि कोरोना के नाम के डर से ही सही रिहाई तो हो गई।


Ajay kumar

Related News