कोविड-19: रेमडेसिविर की तस्‍करी में पकड़े गए आरोपियों पर रासुका के तहत होगी कार्रवाई

4/19/2021 9:54:39 AM

कानपुर: कोविड-19 के उपचार में इस्तेमाल किये जाने वाले जीवन रक्षक इंजेक्शन रेमडेसिविर की तस्करी में गिरफ्तार किए गए 2 चिकित्‍सा प्रतिनिधियों समेत तीन लोगों के विरुद्ध राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के तहत कार्रवाई की जाएगी। कानपुर के पुलिस आयुक्‍त असीम अरुण ने रविवार को कहा कि आरोपी तीनों व्‍यक्तियों के खिलाफ रासुका के तहत कार्रवाई का फैसला किया गया है और इसके लिए बाबूपुरवा पुलिस और विवेचकों को निर्देश दे दिया गया है। उन्‍होंने कहा कि कोविड-19 के उपचार में इस्तेमाल होने वाले रेमडेसिविर इंजेक्‍शन की तस्‍करी और बिक्री करना मानवता के खिलाफ है और बड़ा अपराध है। अरुण ने कहा कि आरोपी व्यक्तियों को अदालत से जमानत मिलने से पहले ही रासुका की कार्यवाही की सभी औपचारिकता पूरी करने को कहा गया है।

उन्होंने कहा कि तस्करी के स्रोत और इस धंधे से जुड़े लोगों की पहचान की कोशिश की जा रही है। उल्लेखनीय है कि उत्तर प्रदेश पुलिस के विशेष कार्यबल (एसटीएफ) और कानपुर पुलिस ने एक साझा अभियान में बृहस्पतिवार को कोविड-19 संक्रमण के जीवन रक्षक इंजेक्शन रेमडेसिविर को निर्धारित मूल्य से अधिक कीमत पर बेचने के आरोप में दो चिकित्‍सा प्रतिनिधियों समेत तीन दवा तस्करों को गिरफ्तार किया था। एसटीएफ के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक आरोपियों के कब्जे से इंजेक्शन रेमडेसिविर की 265 शीशियां बरामद की गयी थीं। गिरफ्तार किए गए लोगों की पहचान कानपुर के नौबस्ता थाना क्षेत्र के न्‍यू बस्ती खाड़ेपुर निवासी मोहन सोनी और कानपुर देहात के गजनेर थाना क्षेत्र के सूरजपुर निवासी प्रशांत शुक्‍ला तथा हरियाणा के यमुनानगर निवासी सचिन कुमार के रूप में हुई। एसटीएफ के अनुसार मोहन कुमार और प्रशांत शुक्‍ला चिकित्सा प्रतिनिधि (एमआर) हैं।

एसटीएफ के अपर पुलिस महानिदेशक अमिताभ यश ने बताया कि सैन्य खुफिया विभाग, लखनऊ से यह जानकारी मिली थी कि कोविड-19 महामारी में जीवन रक्षक रेमडेसिविर की स्थानीय बाजारों में लगातार कमी के कारण दवा तस्कर इसे निर्धारित मूल्य से काफी ऊंचे दाम पर बेच रहे हैं। उन्होंने कहा कि खुफिया सूचना को अधीनस्थों के साथ साझा किया गया और इसके बाद कार्रवाई हुई। उन्होंने बताया कि पुलिस को मुखबिर के जरिये सूचना मिली कि दवा तस्कर रेमडेसिविर इंजेक्‍शन ऊंचे दामों पर बेचने के लिए बृहस्पतिवार को किदवई नगर चौराहे पर थोक में किसी को देने आने वाले हैं। इस सूचना के आधार पर बाबूपुरवा पुलिस की मदद से एसटीएफ टीम ने तीन लोगों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से 265 रेमडेसिविर इंजेक्शन की शीशियां बरामद कीं। 
 


Content Writer

Tamanna Bhardwaj

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static