देवबंद दारुल उलूम ने जारी किया फतवा, घरों में ही रह कर मनाएं ईद

5/12/2021 1:46:40 PM

सहारनपुर: विश्व विख्यात इस्लामिक शिक्षण संस्था दारुल उलूम ने ईद-उल-फितर की नमाज को लेकर फतवा जारी किया है। जिसमें मुफ्तियों ने वैश्विक महामारी कोरोना वायरस से बचाव के लिए शासन की गाइडलाइन का पालन करने का निर्देश दिया है। देवबंद दारुल उलूम की जरफ से जारी बयान में कहा गया कि इमाम सहित तीन से पांच लोगों की जमात के साथ नमाज अदा करे।  उन्होंने यह भी कहा की अगर जमात न हो सके तो इससे परेशान होने की जरुरत नहीं है, क्योंकि इस तरह के हालात में ईद की नमाज माफ है। उसके स्थान पर नमाज-ए-चाशत अदा कर ली जाए तो बेहतर है।
PunjabKesari
बता दें कि दारुल उलूम के नायब मोहतमिम मौलाना अब्दुल खालिक मद्रासी ने संस्था के इफ्ता विभाग के मुफ्तियों की खंडपीठ से यह फतवा लिया है।  जिसमें उन्होंने सवाल किया कि मुल्क में इस समय लॉकडाउन की वजह से जो हालात बने हुए हैं उसमे सरकार ने अहतियात के तौर पर कड़ी पाबंदियां लगाई हुई हैं, इसमें मस्जिदों में भी सिर्फ पांच लोगों को ही नमाज पढ़ने की इजाजत दी गई है। पूछा की ईद-उल-फितर का त्योहार आने वाला है तो ऐसे में ईद की नमाज अदा करने की शरीयत में क्या हिदायत है। सवाल पर दारुल इफ्ता से जारी फतवे में कहा कि जिन शर्तों के साथ जुमा की नमाज अदा करना जायज है। उन्हीं शर्तों पर ईद की नमाज अदा की जा सकती है, यानि इमाम के साथ तीन या पांच लोग मस्जिदों या दूसरी जगहों पर शरीयत की पाबंदियों के साथ नमाज अदा कर सकते है।, वहीं दूसरी ओर मुस्लिम धर्मगुरु व उलेमाओं ने भी अपील की है कि सरकार द्वारा जारी की गई गाइडलाइन का पालन करें और ईद की नमाज घरों में रहकर ही पढ़ें।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Ramkesh

Recommended News

static