मायावती सरकार में हुए चीनी मिल घोटाले में ED का बड़ा एक्शन, पूर्व BSP नेता की 1097 करोड़ रुपए की संपत्ति अटैच

3/10/2021 11:27:23 AM

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में बसपा सुप्रीमो मायावती की सरकार के दौरान हुए चीनी मिल घोटाले में बड़ी कार्रवाई करते हुए प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने पूर्व बसपा एमएलसी मोहम्मद इकबाल और उनके परिवार की 1,097 करोड़ रुपए से अधिक कीमत वाली 7 चीनी मिल कुर्क कर ली हैं। जबकि बसपा एमएलसी ने अपनी शेल कंपनियों के नाम पर इन्हें महज 60.28 करोड़ रुपए में खरीदा था।

जानकारी मुताबिक केंद्रीय जांच एजेंसी के लखनऊ क्षेत्रीय कार्यालय ने धन शोधन रोकथाम अधिनियम (पीएमएलए) के तहत एक अस्थाई कुर्की का आदेश जारी किया।अधिकारियों ने कहा कि इन मिलों का मालिक इकबाल है।  यह मिलें उत्तर प्रदेश के कुशीनगर, बरेली, देवरिया, हरदोई और बाराबंकी जिलों में स्थित हैं और इनकी कुल कीमत 10,97,18,10,250 रुपए है। एजेंसी ने कहा, ये मिलें मोहम्मद इकबाल और उनके परिवार के सदस्यों को वर्ष 2010-11 में विनिवेश/बिक्री प्रक्रिया के माध्यम से केवल 60.28 करोड़ रुपए की कीमत पर बेची गई थीं।

ईडी ने आरोप लगाया कि इकबाल और उनके परिवार के सदस्यों के नियंत्रण वाली नम्रता मार्केटिंग पी लिमिटेड और गिरीयाशो कंपनी पी लिमिटेड जैसी शेल कंपनियों के नाम पर ये मिलें खरीदी गईं। ईडी के संयुक्त निदेशक (लखनऊ) राजेश्वर सिंह ने कहा कि मामले की जांच जारी है और कुछ अन्य लोगों की भूमिका की जांच की जा रही है। वहीं मामले की जांच में लगी ईडी की टीम ने 2 साल पहले मोहम्मद इकबाल के सहारनपुर व दिल्ली आवास पर छापे मारे थे। इस कार्रवाई में काफी दस्तावेज बरामद किए गए थे।


Content Writer

Anil Kapoor

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static