मेरी छवि को बदनाम करने की साजिश रच रहे है चरमपंथी: रिजवी

6/20/2019 4:33:43 PM

लखनऊ: उत्तर प्रदेश शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी ने आरोप लगाया है कि कुछ मुस्लिम कट्टरपंथी और संगठन उनकी छवि को बदनाम करने की साजिश रच रहे हैं। नकवी ने एक बयान जारी कर कहा कि कुछ चरमपंथी और उनका संरक्षण प्राप्त व्यक्तिगत रूप से बनाए गए संगठन उन्हें बदनाम करने की साजिश रच रहे हैं। कुछ दिन पहले तथा कथित हक फाउंडेशन की अध्यक्ष बताने वाली महिला फरहत नकवी ने उनकी गैर मौजूदगी में उनके घर में अपने साथियों के साथ धावा बोला और अपने साथ लाईं मीडिया-कर्मी को फर्जी बयान देकर महिला उत्पीड़न का मामला बताकर उन्हें बदनाम किया।

उन्होंने कहा कि इस सम्बन्ध में उनकी पत्नी ने फरहत नकवी के बयान को गलत बताते हुए अपना शपथ पत्र और बयान पुलिस को दे दिया है। इससे साफ जाहिर है कि उनकी छवि धूमिल करने के लिए फरहत नकवी ने ऐसा घिनौना काम महिला संगठन की आड़ में किया। नकवी ने कहा कि फरहत नकवी केन्द्रीय मन्त्री मुख्तार अब्बास नकवी की सौतेली बहन है और वह अपने भाई की छवि खराब करने के लिए ऐसे अनेक काम करती रहती है।

मुख्तार अब्बास नकवी मेहनत और कुशलशैली के कारण संवैधानिक पद पर है जबकि फरहत नकवी अपनी हरकतों से उन्हें नुकसान पहुंचा रही है। फरहत नकवी की आपत्तिजनक तस्वीरों में उनकी व्यक्तिगत जिन्दगी साफ दिखाई देती है जो सोशल मीडिया पर वाईरल हो रही है। उन्होंने कहा कि फरहत नकवी ने विरोधियों से पैसा लेकर उन्हें बदनाम करने की साजिश रची।

खेदजनक है कि 17 जून को फरहत नकवी और उनके साथियों ने यतीम खाने के बच्चों को मारा पीटा, जिसकी शिकायत इदारे के वाड्रेन द्वारा सआदतगंज थाने में की गई है। इस बीच शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड ने एक प्रस्ताव पारित कर चेतावनी दी है कि नकवी को बदनाम करने के लिए जो लोग साजिश रच रहे है, उनके खिलाफ अगर कार्रवाई नहीं हुई तो बोर्ड के कर्मचारी भूख हड़ताल करने पर मजबूर होंगे।


Anil Kapoor