पंचायत चुनाव व होली में थी लाखों के नकली नोट खपाने की योजना, मास्टरमाइंड सहित 5 गिरफ्तार

punjabkesari.in Friday, Mar 12, 2021 - 11:26 AM (IST)

फिरोजाबाद: उत्तर प्रदेश में फिरोजाबाद जिले के शिकोहाबाद क्षेत्र से पुलिस ने जाली नोटों का धंधा करने वाले गिरोह के सरगना समेत 5 सदस्यों को गिरफ्तार किया। पुलिस ने उनके पास से एक लाख 92 हजार रूपए के जाली नोट बरामद किए। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय कुमार ने बताया कि त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के मद्देनजर रखते हुए अपराध पर अंकुश लगाने और चुनाव में गड़बड़ी फैलाने वाले अराजकतत्वों पर पैनी नजर रखने के लिए अधिकारियों को निर्देश दिए गए थे।

उन्होंने बताया कि इसी क्रम में शिकोहाबाद थाना प्रभारी सुनील कुमार तोमर पुलिस के साथ बुधवार रात इलाके में गस्त पर थे । इसी दौरान आवास विकास कालौनी स्थित पाकर् के सामने बने मकान में नकली नोट छापने वाले अन्तराज्जीय गिरोह दिल्ली मोतीनगर निवासी गिरोह सरगना तजेन्द्र उर्फ काका को उसके चार साथियों सन्तोष उर्फसलीम , जितेन्द्र , दिलीप उर्फ छोटे और दीपक उर्फ गुड्डू को गिरफ्तार कर लिया।

उन्होंने बताया कि पुलिस ने उनके कब्जे से 100-100 के एक लाख 92 हजार रुपए के नोट, लैपटाप, प्रिंटर आदि उपकरण एवं अवैध असलाह बरामद किए हैं। उन्होंने बताया कि गिरफ्तार गिरोह सरगना तजेन्द्र उर्फ काका ने बताया कि वह वर्ष 2000 में अपराध जगत में प्रवेश कर पहली बार जेल गया था और जेल से आने के बाद जाली नोट छापने के धंधे में संलिप्त हो गया था। उसके बाद 2006 में दिल्ली के कमला मार्केट व वर्ष 2012 में विजय विहार थाना में दर्ज मामले में जेल गया था। लम्बे समय तक तिहाड़ जेल में बंद रहा था और वर्ष 2017 में थाना दक्षिण फिरोजाबाद से भी जाली नोट छापने के सम्बन्ध में जेल गया था।

कुमार ने बताया कि कुछ दिन पहले ही वह जमानत पर बाहर आने के बाद उसने अपने साथी सन्तोष उर्फ सलीम आदि की मदद से फिर इस धंधे में लग गया और सभी उपकरण जुटाए और नकली 100-100 रूपए के नोट छापने लगे। जिनको त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव व होली के त्यौहार पर बाजारों में खपाने की योजना थी, लेकिन उससे पहले ही पकड़ लिया गया। गिरफ्तार आरोपियों जेल भेज दिया गया है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Anil Kapoor

Related News

Recommended News

static