बिना अनुमति रेप के दोषी ‘आसाराम’ की पूजा कर रहे उसके समर्थकों के खिलाफ FIR दर्ज

10/16/2021 1:39:31 PM

शाहजहांपुर: दुष्कर्म के आरोप में जेल में बंद आसाराम की पूजा कर रहे उसके अनुयायियों के विरुद्ध भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के एक नेता की शिकायत पर पुलिस ने कार्यक्रम को बंद कराकर पांच लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी।

पुलिस अधीक्षक नगर संजय कुमार ने शनिवार को बताया कि अनुयायी दशहरा के उपलक्ष्य में थाना कांट स्थित कस्बे में शुक्रवार शाम टेंट लगाकर आसाराम की पूजा अर्चना कर उनकी आरती उतार रहे थे, इसी बीच सूचना पाकर वहां पहुंचे भाजपा नेता संतोष दीक्षित ने कार्यक्रम को बंद करने को कहा। उन्होंने बताया कि इसके बाद भी जब अनुयायी नहीं माने तो उन्होंने इसकी सूचना पुलिस को दी, जिसके बाद पुलिस ने पहुंचकर कार्यक्रम बंद करवाया तथा मुख्य आयोजनकर्ता राजकुमार, राकेश, सुनील, चंदन दास तथा दक्ष मुनि के अलावा कुछ अज्ञात अनुयायियों के विरुद्ध मामला दर्ज किया।

कुमार ने बताया कि जिले में त्योहारों के मद्देनजर धारा 144 लागू है ऐसे में किसी भी आयोजन को करने से पूर्व प्रशासन से अनुमति लेना आवश्यक है और आसाराम के अनुयायी बिना अनुमति के आयोजन कर रहे थे। शाहजहांपुर की एक लड़की से 15 अगस्त 2013 को जोधपुर स्थित आश्रम में आसाराम ने दुष्कर्म किया था, लड़की आसाराम के आश्रम में पढ़ती थी। घटना के बाद आसाराम को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया था।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Umakant yadav

Related News

Recommended News

static