इश्क में मिली तालिबानी सजा: दूसरे धर्म में विवाह करने पर अनाथ युवती की लात-घुसों से पिटाई, फिर किया गंजा

punjabkesari.in Tuesday, Jun 22, 2021 - 02:22 PM (IST)

बाराबंकी: उत्तर प्रदेश के बाराबंकी में हैरतअंगेज मामला सामने आया है। यहां एक गांव में बालिग अनाथ युवती ने गैर धर्म के अनाथ युवक से विवाह कर लिया जिससे उसके चाचा व अन्य परिजन इस कदर नाराज हुए कि उसे तालिबानी सजा सुना दी। परिजनों ने युवती को मारा-पीटा और सिर मुंडवा दिया। इस घटना की खबर फैलते ही गांव में तनाव का माहौल हो गया। सूचना पर गांव पहुची पुलिस युवती को कोतवाली ले आई। घटना में शामिल युवती के चाचा सहित तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया। इन तीनों समेत आठ लोगों के विरुद्ध विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज हुआ है।

पुलिस सूत्रों ने आज यहां कहा कि फतेहपुर कोतवाली क्षेत्र के एक गांव में मिथुन नाम का मजदूर पेशा अनाथ युवक गांव के बाहर एक कमरे में रहता है। उसके माता-पिता की मौत हो चुकी है। कुछ ही दूर एक झोपड़े में मां-बाप की मौत के बाद युवती अपनी दादी के साथ रहती थी। कुछ दिनों से युवक-युवती के बीच प्रेम संबंध बन गए। रविवार को गांव के ही एक धार्मिक स्थल के फेरे लेकर दोनों ने विवाह रचा लिया। युवती राजी खुशी लड़के के घर चली गई थी। लड़की के विवाह करने की सूचना जब उसके चाचा व घर के अन्य लोगों को मिली तो उनका गुस्सा इस कदर भड़का कि वह कल लड़के के घर पर आ गए। मिथुन उस समय किसी कार्य से घर से बाहर गया हुआ था।

थाने में दी गई तहरीर में लड़की ने बताया कि सोमवार को चाचा रिजवान, नूर आलम, मो. शब्बीर, समी मुझे अपने घर से बुला लाए और चाचा रिजवान की पत्नी नजीरा, शबनम और मो. यूनुस आदि ने लात-घूंसे, चप्पल और डंडों से मारा पीटा। पहले सिर के बाल काटे और फिर पूरे सिर का मुंडन करा दिया। लड़की ने तहरीर में कहा कि परिवारीजन भद्दी-भद्दी गालियां देते हुए जान से मारने की धमकी दे रहे थे। उसने बताया कि वह किसी प्रकार जान बचाकर भाग कर आई। पुलिस को दी तहरीर मेविभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है, जिसमें युवती के चाचा रिजवान के अलावा नूर आलम, मो. शब्बीर, समी, नजीरा,शबनम शब्बीर की पत्नी , व मो. यूनुस को नामजद किया है। जिसमें पुलिस ने रिजवान, नूरआलम व शब्बीर को गिरफ्तार कर लिया है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Umakant yadav

Related News

Recommended News

static