सहारनपुर से जुड़े गोरखपुर हमले के तार: ATS ने अब्दुल को दोबारा उठाया, हमले वाले दिन मुर्तजा से फोन पर की थी बात... CDR में पकड़ा गया झूठ

punjabkesari.in Thursday, Apr 07, 2022 - 08:29 PM (IST)

सहारनपुर: गोरखपुर हमले के तार सहारनपुर से जुड़े होने पर ए.टी.एस. 2 दिन से सहारनपुर में जमी हुई है। कल की सुबह छुटमलपुर के अब्दुल रहमान को उठाया था और पूछताछ के बाद अब्दुल को छोड़ दिया था लेकिन हमले के दिन हुई बात की जानकारी के बाद आज दोबारा उठा लिया है। आज अब्दुल से गुप्त स्थान पर पूछताछ की।

PunjabKesari
अब्दुल ने पूछताछ में मुर्तजा को दिमागी रूप से बीमार बताया है। इसके बाद उसने उससे बात करना छोड़ दिया था लेकिन सी.डी.आर. में हमले वाले दिन भी अब्दुल ने मुर्तजा से बात की थी। हालांकि ए.टी.एस. को अब्दुल का कोई भी आपराधिक इतिहास नहीं मिला है। अब्दुल छुटमलपुर में काशिफी जनरल स्टोर के नाम से दुकान चलाता है। वह मूल रूप से थाना फतेहपुर के गांव बड़कला का रहने वाला है। ए.टी.एस. ने पूछताछ के बाद कल की देर रात को अब्दुल को छोड़ दिया था लेकिन आज दोबारा उसे उठाकर पूछताछ की।

दोनों सीरिया के आतंकी संगठन से हैं जुड़े
मुर्तजा अहमद अब्बासी से हुई पूछताछ के बाद लखनऊ ए.टी.एस. ने इनपुट दिया था। जिसमें सहारनपुर के छुटमलपुर के युवक का नाम भी सामने आया है। दोनों एक साथ नेपाल भी जा चुके हैं। यहीं नहीं मुर्तजा अब्बासी और अब्दुल रहमान सीरिया के एक आतंकी संगठन के भी संपर्क में बताए जा रहे हैं। काल डिटेल में सामने आया है कि अब्दुल लगातार मुर्तजा से बात करता था। हमले वाले दिन भी अब्दुल ने मुर्तजा से फोन पर बात की थी जिसकी सी.डी.आर. में पुष्टि हो रही है।

अब्दुल बोला, मुर्तजा का मानसिक संतुलन ठीक नहीं
ए.टी.एस. की पूछताछ में अब्दुल रहमान ने बताया कि उसकी मुलाकात मुर्तजा से 2018 में बरेली जाते हुए हुई थी। इसके बाद उनकी गहरी दोस्ती हो गई। फोन पर लगातार बात होती थी। लेकिन, बातों से मुर्तजा का दिमागी संतुलन ठीक नहीं लगा। जिस कारण उसने मुर्तजा से बात करनी छोड़ दी थी। लेकिन ए.टी.एस. ने जो सी.डी.आर. निकलवाई है। उसमें वह अब्दुल, मुर्तजा के लगातार टच में था।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Mamta Yadav

Related News

Recommended News

static