CM योगी ने दिया नारा- ''''दिमागी बुखार पर सरकार का सीधा वार, सुरक्षित होगा हर परिवार''''

punjabkesari.in Saturday, Apr 02, 2022 - 07:50 PM (IST)

गोरखपुर: उत्तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने शनिवार को दावा किया कि उनकी सरकार प्रदेश से इंसेफलाइटिस को ‘‘मिटाने' में सफल रही है और आरोप लगाया कि पूर्ववर्ती सरकारों ने इस बीमारी के रोकथाम के लिए कोई कदम नहीं उठाया। उन्होंने सिद्धार्थनगर जिले में विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान की शुरुआत करने के दौरान यह बात कही। उन्होंने कहा कि राज्य में बीमारियों के उन्मूलन के प्रयास जारी रहेंगे व इस बीमारी को प्रदेश की धरती पर नहीं रहने देंगे।

मुख्‍यमंत्री ने बीएसए ग्राउंड में विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान की शुरुआत करने के बाद अपने संबोधन में चैत्र नवरात्र और ‘हिन्दू नव वर्ष' के अवसर पर लोगों को शुभकामनाएं दीं और भारतीय जनता पार्टी की राज्य में दोबारा सरकार बनाने के लिए आभार जताया। उन्होंने आशा कार्यकर्ताओं की सराहना करते हुए कहा कि पांच साल के दौरान घातक इंसेफेलाइटिस रोग इस क्षेत्र के लिए एक अभिशाप था, जिसे समाप्त करने में आशा कार्यकर्ताओं का महत्वपूर्ण योगदान है। उन्होंने कहा कि आशा कार्यकर्ताओं ने जागरुकता कार्यक्रम चलाए और घर-घर जाकर बीमारी से बचाव व संक्रमण होने पर तत्काल कार्रवाई के सुझाव भी दिए।

योगी आदित्‍यनाथ ने स्‍वास्‍थ्‍य और चिकित्‍सा के क्षेत्र में अपने पिछले पांच वर्ष के कार्यकाल की उपलब्धियों की चर्चा करते हुए कहा कि उनकी सरकार ने राज्य को 33 मेडिकल कॉलेज दिए हैं, जिनमें से 17 मेडिकल कॉलेजों में शैक्षणिक सत्र शुरू हो गया है और बाकी में अगले सत्र से शिक्षण कार्य शुरू होगा। उन्होंने इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व की सराहना करते हुए कहा कि पूरी दुनिया ने तारीफ की है कि उत्तर प्रदेश एक आदर्श राज्य बन गया और यहां कोरोना काल में मुफ्त परीक्षण, मुफ्त टीकाकरण और मुफ्त इलाज दिया गया। योगी ने कहा कि डबल इंजन सरकार सभी जरूरतमंदों को दोगुना राशन दे रही है। उन्होंने सिद्धार्थनगर के काला नमक चावल की प्रशंसा करते हुए कहा, "देश के साथ-साथ काला नमक चावल की सुगंध पूरी दुनिया में फैल रही है और ओडीओपी (एक जिला एक उत्पाद) योजना के तहत काला नमक चावल का चयन किया गया है।

मुख्यमंत्री ने लोगों से जलजमाव रोकने और स्वच्छता बनाए रखने की अपील की क्योंकि गंदगी और मच्छर विभिन्न जल जनित और मच्छर जनित बीमारियों जैसे इंसेफेलाइटिस, डेंगू, मलेरिया, कालाजार, चिकनगुनिया आदि का कारण है। उन्‍होंने कहा कि राज्य को बीमारियों से मुक्त करने के लिए सरकार स्वच्छता पर जोर दे रही है और हर घर को शौचालय और हर जरूरतमंद को घर दिया जा रहा है। योगी ने सभी से खुले में शौच बंद करने की अपील की और लाभार्थियों से आयुष्मान कार्ड बनाने को कहा ताकि उन्हें मुफ्त इलाज की सुविधा मिल सके। डुमरियागंज के सांसद जगदंबिका पाल ने मुख्यमंत्री का जिले में दौरा करने पर स्वागत किया और धन्यवाद दिया।

उल्लेखनीय है कि विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान पूरे प्रदेश में दो से 30 अप्रैल तक चलेगा और इसके लिए सरकार ने ''दिमागी बुखार पर सरकार का सीधा वार, सुरक्षित होगा हर परिवार'' नारा दिया है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Mamta Yadav

Related News

Recommended News

static