हिन्दू महासभा का विवादित कैलेंडर जारी, मुस्लिमों के पवित्र तीर्थ मक्का को बताया महादेव का मंदिर

punjabkesari.in Tuesday, Apr 05, 2022 - 02:44 PM (IST)

अलीगढ़: जिले में अखिल भारत हिन्दू महासभा के कार्यालय पर मंगलवार को हिन्दू नव वर्ष व नवदुर्गा के मौके पर एक प्रेस वार्ता कर विवादित कैलेंडर जारी किया गया। जिसमें मुस्लिमों के पवित्र तीर्थ मक्का के मक्केश्वर महादेव मंदिर, मथुरा की शाही ईदगाह श्रीकृष्ण जन्मभूमि, ताज महल को तेजो महालय शिव मंदिर, मध्यप्रदेश के धार स्थित कामिल मौला मस्जिद को भोजशाला, काशी की ज्ञानवापी मस्जिद को काशी विश्वनाथ मंदिर, कुतुबमीनार को विष्णु स्तम्भ, जौनपुर की अटाला मस्जिद को अटला देवी मंदिर दिखाया गया है।

अखिल भारत हिंदू महासभा की राष्ट्रीय सचिव डॉ पूजा शकुन पाण्डेय ने कैलेंडर जारी करते हुए कहा कि हिंदू नववर्ष का कैलेंडर आज जारी किया गया है। छह प्रमुख स्थानों के लिए कैलेंडर को विशेष रूप से जारी किया गया है। केंद्र और प्रदेश सरकार से उम्मीद है कि आने वाले समय में इन स्थानों को भी इनके मूल स्वरूप में लाया जाएगा। मुसलमानों के पवित्र तीर्थ स्थल मक्का को  मक्केश्वर महादेव के नाम से जाना जाएगा। ताजमहल को जाना तेजो महालय शिव मंदिर व कुतुबमीनार को विष्णु स्तंभ के नाम से जाना, जाना चाहिए।

पूजा शकुन पाण्डेय ने बताया कि अखिल भारत हिंदू महासभा के द्वारा 5 वर्ष पूर्व 2018 में भी इसी प्रकार का एक कैलेंडर जारी किया गया था। जिसमें राम मंदिर निर्माण कराए जाने की माँग की गई थी। लिहाज़ा अब राम मंदिर का निर्माण कराया जा रहा है, इसलिए इन जगहों की मांग को लेकर कैलेंडर जारी किया गया है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Ramkesh

Related News

Recommended News

static