तेजाब हमले में पति-पत्नी की हालत गंभीर, 3 गिरफ्तार... थानाध्यक्ष एवं उपनिरीक्षक निलंबित

punjabkesari.in Monday, May 09, 2022 - 05:03 PM (IST)

पीलीभीत: उत्तर प्रदेश के पीलीभीत जिले में एक नाबालिग से हुई छेड़खानी के मामले में समझौता न करने पर उसके माता-पिता पर आरोपियों के परिवार वालों ने कथित रूप से तेजाब डाल दिया। 

पुलिस अधीक्षक दिनेश प्रभु ने मीडिया को बताया कि इस प्रकरण में पांच आरोपियों के विरुद्ध पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया है और तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। प्रभु के अनुसार मामले में लापरवाही बरतने पर गजरौला थानाध्यक्ष तेजपाल एवं सुहास पुलिस चौकी प्रभारी लोकेश कुमार को निलंबित का दिया गया है। 

उन्होंने बताया कि गजरौला थाने में बेटी के पिता ने छह मई को राजेश के खिलाफ छेड़खानी और मारपीट की रिपोर्ट दर्ज कराई थी जो इस घटना के बाद से गांव से भाग गया था। पुलिस के अनुसार सोमवार को अदालत में लड़की का बयान दर्ज किया जाना था, लेकिन उससे पहले ही रविवार रात पांच लोगों ने लड़की के पिता नन्हें लाल (42) एवं उसकी माता लक्ष्मी (40) पर तेजाब फेंक दिया। दोनों की हालत गंभीर है। 

प्रभु ने बताया कि तेजाब हमले के सिलसिले में पांच लोगों-- अजय, छोटेलाल, रामकिशन,गुड्डू, हरिशंकर निवासी ग्राम अज्ञारी के विरूद्ध रिपोर्ट दर्ज की गई है जिनमें तीन लोंगो को गिरफ्तार किया जा चुका हैं । गजरौला पुलिस के अनुसार आरोप है कि पीड़िता के माता-पिता गांव में अपने घर के आंगन में सो रहे थे। पीड़िता और उसके दो सगे भाई और दादी कमरे में सो रहे थे। हमलावार रविवार की रात में घर में घुसे और सोते समय पीड़िता के माता-पिता पर तेजाब डाल दिया। तेजाब पड़ने से उन दोनों के बिस्तर जल गए और चेहरे झुलस गए।

इस बीच शोर सुनते ही आरोपी हमलावर भाग गए। पुलिस के मुताबिक तेजाब से झुलसे पीड़िता के माता-पिता को एबुलेंस से जिला अस्पताल भेजा गया। पीड़िता के पिता नन्हें लाल एवं माता लक्ष्मी गंभीर हालत में जिला अस्पताल लाया गया। हालात खराब होने पर उन्हें राममूर्ति मेडिकल कालेज भोजीपुरा बरेली भेजा गया है। इस घटना के बाद बरेली परिक्षेत्र के पुलिस महानिरीक्षक रमित शर्मा ने भी घटना स्थल का निरीक्षण कर कड़ी कार्रवाई का निर्देश दिया है। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Imran

Related News

Recommended News

static