UP में दलितों को न्‍याय दिलाने के बजाय उत्‍पीडऩ में जुटी सरकार: प्रियंका

12/4/2020 7:00:28 PM

लखनऊ: कांग्रेस की राष्‍ट्रीय महासचिव और उत्‍तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने शुक्रवार को कहा कि उत्‍तर प्रदेश में दलितों के खिलाफ निरंतर अत्‍याचार और उत्‍पीडऩ हो रहा है। दलित समुदाय के लोग प्रतिरोध के स्‍वर बुलंद कर रहे हैं। कांग्रेस पार्टी की ओर से जारी विज्ञप्ति के अनुसार उत्‍तर प्रदेश कांग्रेस अनुसूचित जाति विभाग द्वारा प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में आयोजित दलित महापंचायत' को प्रियंका गांधी वाड्रा वीडियो कांफ्रेंस के जरिये संबोधित कर रही थीं। 

प्रियंका ने हाथरस की घटना का जिक्र करते हुए कहा, योगी सरकार उस घटना के बाद भी कोई सुधार करने और न्याय दिलाने के बजाय पीड़ितों पर ही अत्याचार करने में जुटी है और उन्हें ही कटघरे में खड़ा कर रही है। उन्होंने मंगटा गांव कानपुर, ललितपुर, आजमगढ़ आदि जिलों में दलितों पर हुए अत्याचार-उत्पीडऩ का जिक्र किया। उन्होंने कहा कि उत्‍तर प्रदेश कांग्रेस अनुसूचित जाति विभाग के चेयरमैन आलोक प्रसाद को इसी वजह से जेल में डाला गया। उन्होंने कार्यकर्ताओं से कहा कि आपके सामने बड़ी ऐतिहासिक जिम्मेदारी है और आप लोगों के साथ खड़े होकर अपनी आवाज़ बुलंद कीजिए।

 उन्‍होंने कहा,अभी मैं आंबेडकर छात्रावास के छात्रों से बात कर रही थी जहां छात्र आहत और दुखी हैं, क्योंकि सरकार उनके छात्रावासों को बंद कर देना चाहती है। उप्र कांग्रेस अनुसूचित जाति विभाग के चेयरमैन आलोक प्रसाद की रिहाई के बाद प्रदेश भर में दलितों की आवाज को बुलंद करने के लिए दलित महापंचायत बुलाई गयी थी। महापंचायत में प्रियंका ने अनुसूचित जाति विभाग के कार्यकर्ताओं की प्रशंसा की और कहा कि आने वाले समय में सामाजिक न्याय, संविधान व दलित छात्रों की छात्रवृत्ति बचाने एवं दलितों पर हो रहे अत्याचार के खिलाफ लड़ाई लड़ते हुए प्रत्येक गांव में कार्यकर्ताओं की टीम बनानी है। 
 


Ramkesh

Related News