अपराधियों पर शिंकजा कसना शुरू, टॉप 10 अपराधियों की संपत्ति कुर्क करने के निर्देश जारी

9/21/2020 3:52:21 PM

गोरखपुरः उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में बढते हुए अपराध को देखते हुए जिला प्रशासन और पुलिस ने अपराधियों पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। पुलिस सूत्रों ने सोमवार को बताया कि जिलाधिकारी के. विजेयन्द्र पान्डियन ने जिले के टॉप टेन अपराधियों में शामिल सुधीर सिंह की सम्पत्ति को कुर्क करने का आदेश जारी किया है।

गौरतलब है कि सुधीर सिंह जिले के पिपरौली ब्लाक के ब्लाक प्रमुख भी है और इनके उपर विभिन्न अपराधिक धाराओं में कुल 33 मुकदमे दर्ज हैं। सूत्रों ने बताया कि सुधीर सिंह के पास 10 करोड़ की सम्पत्ति है, जिसमें जिले के शाहपुर और सहजनवा थाना क्षेत्र में आवास के अलावा गीड़ा थाना क्षेत्र में आलमोनियम फैक्ट्री तथा 24 मालवाहक कन्टेनर भी है। उन्होंने बताया कि सुधीर सिंह की सहजनवा की सम्पत्ति जब्त करके नायब तहसीलदार सहजनवा को रिसीबर नियुक्त किया गया है जबकि शाहपुर में उनकी सम्पत्ति का रिसीबर गोरखपुर सदर के नायब तहसीलदार को बनाया गया है। सुधीर सिंह पर कई बार गैंगेस्टर एक्ट की कारर्वाई हो चुकी है।

सूत्रों ने बताया कि शाहपुर थाना क्षेत्र के बसारतपुर में रविवार को परिषदीय विद्यालय की प्रधानाध्यापिका और उसकी बेटी पर दिन दहाड़े हमला किया गया। हमले में प्रधानाध्यापिका की मौत के बाद पुलिस प्रशासन हरकत आया है। गोरखपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जोगेन्द्र कुमार ने दावा किया है कि हमलावरों को जल्द से जल्द गिरफतार कर लिया जायेगा। मृतक शिक्षिका के पति के तहरीर पर पांच लोगों के खिलाफ नामजद प्राथमिक दर्ज किया गया है। इससे एक दिन पूर्व चिलुआताल थाना क्षेत्र के मजनू पुलिस चौकी के समीप और ताजडीहा में हुई लूट के मामले में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने मजनू चौकी के प्रभारी छोटेलाल को लाइन हाजिर कर दिया है। इसी तरह गगहा थाने में तैनात दरोगा विजय शंकर यादव और संजय कुमार सिंह को कार्य में लापरवाही बरतने के आरोप में लाइन हाजिर किया गया है। 


Tamanna Bhardwaj

Related News