Jhansi: आगामी त्योहारी सीज़न को लेकर तैयारियों में जुटा प्रशासन, DM ने दिए ये दिशा-निर्देश

punjabkesari.in Sunday, Sep 25, 2022 - 08:19 PM (IST)

झांसी: आगामी त्योहारी सीज़न को ध्यान में रखकर उत्तर प्रदेश का झांसी जिला प्रशासन कानून व्यवस्था से लेकर अन्य सभी तरह की व्यवस्थाओं को लेकर तैयारियों में जुट गया है। इसी क्रम में यहां विकास भवन में जिलाधिकारी रविंद्र कुमार और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) राजेश एस ने अन्य अधिकारियों के साथ रविवार को समीक्षा बैठक की। आगामी दिनों में आने वाले पर्वों एवं त्योहारों-नवरात्र, दुर्गा पूजा, दशहरा, बारावफात, दीपावली आदि के द्दष्टिगत वरिष्ठ पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारियों सहित जूम एप के माध्यम से समस्त उप जिलाधिकारी एवं क्षेत्राधिकारी पुलिस के साथ कानून व्यवस्था के साथ साथ गड्ढामुक्ति अभियान, विद्युत आपूर्ति, स्वच्छता व सैनिटाइजेशन आदि के सम्बन्ध में भी समीक्षा की।       

जिलाधिकारी ने जनपद, तहसील तथा थाना स्तर के सभी अधिकारियों को इन त्योहारों को सौहार्द पूर्ण वातावरण में सम्पन्न किए जाने के लिए संवेदनशीलता, अनुशासन, गरिमा का परिचय देते हुए अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन करने के निर्देश दिये। उन्होंने निर्देश दिये कि सभी धर्म व सम्प्रदायों के धर्मगुरुओं के साथ-साथ जनप्रतिनिधियों, प्रतिष्ठित व्यक्तियों आदि के साथ बात करें, अधिकारी छोटी से छोटी बातों का भी संज्ञान लें और समस्याओं का निराकरण करें। पूजा-पण्डालों व रामलीला मंचन के स्थानों के आस-पास साफ-सफाई और सुरक्षा के विशेष प्रबन्ध सुनिश्चित किए जाएं। विसर्जन मार्गों सहित अन्य सड़कें गड्ढामुक्त रहें।       

महिलाओं की सुरक्षा पर विशेष ध्यान दिया जाए। दुर्गा प्रतिमाओं के विसर्जन के सम्बन्ध में पहले से तैयारी कर ली जाए। नदियों के प्रदूषण को नियंत्रित किया जाए। उन्होंने पर्वों के दौरान साफ-सफाई, निर्बाध जलापूर्ति व विद्युत आपूर्ति के प्रबन्ध सुनिश्चित किये जाने के निर्देश दिए। शुद्ध पेयजल और साफ-सफाई की व्यवस्थाएं हर हाल में सुनिश्चित की जाएं। एण्टी लार्वा छिड़काव, फॉगिंग तथा सेनिटाइजेशन का कार्य निरन्तर जारी रहे।

उन्होंने कहा कि अपराध और अपराधियों के प्रति राज्य सरकार की जीरो टॉलरेंस की नीति है। अराजकता व अव्यवस्था फैलाने वाले लोगों पर कार्रवाई की जाए। पर्वों व त्योहारों की आड़ में अव्यवस्था व अराजकता को किसी भी प्रकार की छूट न मिले, समय रहते कार्रवाई हो, फ्लैग मार्च व फुट पेट्रोलिंग की जाए और रूट चार्ट प्लान तैयार रहे। संवेदनशील स्थानों व जनपदों में पूरी सजगता व सतकर्ता बरती जाए। अफवाहों को प्रभावी तरीके से रोंके। सोशल मीडिया के प्रति निरन्तर सतकर्ता रहे। मीडिया के समक्ष तत्काल घटना के सम्बन्ध में सही तथ्य प्रस्तुत किए जाएं। उत्तेजना, सनसनी और भड़काऊ बयानों व संदेशों पर कड़ी कार्रवाई हो। अधिकारियों की जिम्मेदारी और जवाबदेही हर-हाल में सुनिश्चित हो।

बैठक में जिलाधिकारी ने कहा कि दालों तथा खाद्य तेलों की कालाबाजारी व जमाखोरी पर अंकुश लगाया जाए। मूल्य वृद्धि पर नियंत्रण हो। पर्वों एवं त्योहारों के दौरान मिठाई, खाद्य सामग्री आदि में मिलावट सहित कालाबाजारी व जमाखोरी की स्थिति में छापे मारकर दोषियों के विरुद्ध कठोर कार्रवाई की जाए। बैठक में नगर के विभिन्न संप्रदाय के धर्मगुरुओं, सामाजिक संगठन के अतिरिक्त व्यापारिक संगठन के प्रतिनिधियों ने भी हिस्सा लिया।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Mamta Yadav

Related News

Recommended News

static