काशी विश्वनाथ कॉरिडोर: लोकार्पण के बाद 8 लाख घरों में बंटेंगा प्रसाद, 40 हजार हाथ दिन रात बना रहे लड्डू!

punjabkesari.in Sunday, Dec 12, 2021 - 05:28 PM (IST)

वाराणसी: ​लंबे इंतजार के बाद सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी काशी विश्वनाथ कॉरिडोर का लोकार्पण करेंगे। पूरा देश इस लोकार्पण का साक्षी बनेगा। जिसके चलते उत्तर प्रदेश सरकार इस लोकार्पण को यादगार बनाने के लिए जोरों शोरों से तैयारी कर रही है।
PunjabKesari
शहर से लेकर गांवों तक घरों में इसकी तैयारियां चल रही हैं। कहीं लड्डू बन रहे हैं तो कहीं फूल मालाएं बन रही है। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि  कल काशी में दीपावली जैसा नजारा होगा।
PunjabKesari
बता दें कि काशी विश्वनाथ कॉरिडोर लोकार्पण कार्यक्रम को एतिहासिक बनाने के लिए काशी के 8 लाख घरों में लड्डू बांटने की तैयारी है। इसे बनाने में 14 हजार किलो बेसन, सात हजार किलो चीनी और सात हजार किलो घी का इंतजाम किया गया है। लड्डू बनाने के लिए दस लोगों को लगाया गया है। इसके लिए 600 श्रमिक दिन-रात काम कर रहे हैं। इस काम के लिए कई हलवाई दिन-रात जुटे हुए हैं।
PunjabKesari
इन लड्डुओं की पैकिंग करने के लिए महिलाओं और पुरुषों दोनों को लगाया गया है। हर पैकेट में दो-दो लड्डू रखे जाएंगे। डोर टू डोर प्रसाद पहुंचाया जाएगा। इसकी व्यवस्था ट्रस्ट की ओर से की गई है। 
PunjabKesari
प्रसाद काउंटर मेंबर अंकित चौहान ने आज तक को बताया कि कुल 8 लाख में से 1 लाख का ऑर्डर उन्हें मिला है और बाबा की सेवा का सौभाग्य पाकर वह बहुत खुश हैं। उनकी मां कुसुम भी महिलाओं के साथ बैठकर लड्डू बनाने के काम में हाथ बंटा रही हैं और शिव ध्वनियां गुनगुना रही हैं।
PunjabKesari
लड्डू बनाने के बाद उन्हें एक छोटे डिब्बे में पैक किया जा रहा है। डिब्बे पर काशी विश्वनाथ का लोगो लगा है। यही डिब्बे घर-घर जाने हैं। 
PunjabKesari
यह प्रसाद मंदिर से सीधे आठों विधानसभा क्षेत्रों में भेजा जाएगा। वहां से मंडलों बूथों तक पहुंचाया जाएगा। प्रसाद वितरण के लिए 3361 केंद्र बने हैं। हर टोली 50-50 घरों में प्रसाद बांटेगी। साथ ही, विश्वनाथ मंदिर के इतिहास से जुड़ी पुस्तिका व कैलेंडर भी दिया जाएगा। 

PunjabKesari


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tamanna Bhardwaj

Related News

Recommended News

static