Lakhimpur Violence: मारे गए किसान के परिजन अड़े, कहा- जब तक ऑटोप्सी रिपोर्ट नहीं दी जाती अंतिम संस्कार नहीं करेंगे

punjabkesari.in Tuesday, Oct 05, 2021 - 02:38 PM (IST)

लखनऊ/सीतापुर: उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी हिंसा में मारे गए किसान लवप्रीत सिंह के परिजन अंतिम संस्कार से करने से पीछे हट गए हैं। परिजन अब इस बात पर अड़ गए हैं कि जब तक ऑटोप्सी रिपोर्ट और आरोपी आशीष मिश्रा के खिलाफ दर्ज की गई FIR की कॉपी नहीं दी जाती, तब तक अंतिम संस्कार नहीं करेंगे।

PunjabKesari
उधर, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी को यूपी पुलिस ने हिरासत में लेकर सीतापुर स्थित पीएसी गेस्ट हाउस में रखा हुआ है। बताया जा रहा है कि इस गेस्ट पर ड्रोन से नजर रखी जा रही है। प्रियंका की हिरासत से नाराज कांग्रेस कार्यकर्ता हंगामा कर रहे हैं। उन्होंने गेस्ट हाउस के बाहर बैरिकेड्स तोड़ दिए हैं और नारेबाजी कर रहे हैं। कांग्रेस कार्यकर्ताओं की पुलिस से तीखी झड़प हो गई, क्योंकि कार्यकर्ता खाना बनाने का सामान और टेंट लेकर पहुंच गए थे और पुलिस ने उन्हें रोक दिया।

PunjabKesari
वहीं प्रियंका ने सोशल मीडिया पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से सवाल किया है। उन्होंने किसानों को जीप से कुचलने का वीडियो शेयर करते हुए पूछा है, 'आप आजादी का अमृत उत्सव मनाने लखनऊ आए हैं। मंत्री और उनका बेटा अब तक गिरफ्तार क्यों नहीं हुए हैं? आप इस वीडियो को देखिए और देश को बताइए कि मंत्री को बर्खास्त क्यों नहीं किया गया? और मेरे जैसे विपक्षी नेताओं को बिना किसी FIR के हिरासत में क्यों रखा हुआ है?

PunjabKesari
सरकार और किसानों के बीच हुआ था समझौता
बता दें कि सोमवार को लखीमपुर में सरकार और किसानों के बीच चौथे दौर की वार्ता में समझौता हो गया था। सरकार ने मृतकों के परिवार को 45 लाख रुपए मुआवजा देने का ऐलान किया। वहीं सभी मृतकों के परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी भी दी जाएगी। साथ ही घटना की न्यायिक जांच और 8 दिन में आरोपियों को गिरफ्तार करने का वादा भी किया गया। जिसके बाद किसान शवों का अंतिम संस्कार करने के लिए राजी हो गए थे।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Umakant yadav

Related News

Recommended News

static