ललितपुर गैंगरेप मामला: एडीजी लॉ बोले - दोषियों पर होगी सख्त कार्रवाई

punjabkesari.in Wednesday, May 04, 2022 - 04:53 PM (IST)

लखनऊ: ललितपुर जिले में सामूहिक बलात्कार का मुकदमा दर्ज कराने गई 13 साल की एक लड़की से थानाध्यक्ष ने कथित रूप से दुष्कर्म का आरोप लगा है। वहीं इस मामले में एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार  ने बयान जारी किया है। उन्होंने घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है। प्रशांत ने बताया घटना की जानकारी होते ही  तत्काल इंस्पेक्टर के खिलाफ कार्रवाई की गई है। इंस्पेक्टर सहित 6 लोगो के खिलाफ कुकर्म का मुकदमा थाना पाली में दर्ज किया गया है। इस मामले में  एडीजी जोन ने पूरे थाने को लाइन हाजिर कर दिया गया है। कुल 3 लोगों की गिरफ्तारी की गई है। जिसमें एक महिला भी शामिल है। उन्होंने कहा कि घटना में जब तक सच्चाई सामने नहीं आ जाती है तब तक  डीआईजी झांसी को वहां पर रहने के निर्देश दिए गए है।  उन्होंने कहा कि सभी आरोपियों के खिलाफ गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। दोषी कोई भी हो उस कार्रवाई की जाएगी। किसी भी आरोपी को बक्शा नहीं जाएगा।

बता दें कि इस घटना को लेकर मुख्य विपक्षी दल समाजवादी पार्टी और कांग्रेस ने सरकार की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाया है। पुलिस सूत्रों ने बुधवार को बताया कि कथित पीड़िता की मां ने दर्ज शिकायत में आरोप लगाया है कि उसकी बेटी पिछली 27 अप्रैल को पाली थाने में मुकदमा दर्ज कराने गई थी। इसी दौरान बयान दर्ज कराने के बहाने थानाध्यक्ष तिलकधारी सरोज उसे अपने कमरे में ले गया और उससे दुष्कर्म किया। उन्होंने बताया कि इस मामले में मुकदमा दर्ज कर आरोपी थानाध्यक्ष को निलंबित कर दिया गया है। लड़की की मां का आरोप है कि पिछली 22 अप्रैल को चार लोग उसकी बेटी को भोपाल ले गए थे जहां उन्होंने उसे तीन दिन तक अपनी हवस का शिकार बनाया था। इसके बाद वे उसे पाली थाने के बाहर छोड़कर भाग गए।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Ramkesh

Related News

Recommended News

static