यूपी में राम भरोसे कानून व्यवस्था, दबंगों ने फौजी के तोड़े हाथ, न्याय के लिए दर दर भटक रहा जवान

9/24/2020 3:36:48 PM

मुरादाबाद: मानों उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था राम भरोसे है। अपराधियों और दबंगों को कानून नाम का कोई खौफ नहीं है। मनचाही वारदात को अंजाम देकर फरार हो जा रहे हैं। ऐसा ही एक मामला मुरादाबाद में देखने को मिला है। यहां दबंगों ने देश की सीमाओं की सुरक्षा करने वाले फौजी को भी नहीं बख्शा। पहले दबंगों ने फौजी की जमीन पर कब्जा जमाया और जब उसने इसका विरोध किया तो उसपर हमला बोलकर हाथ तोड़ दिया।

योगी राज में भी दबंगों के हौसले इतने बुलंद है की दबंग आए दिन किसी को भी अपना शिकार बना लेते हैं जिसमें ना तो पुलिस का दबंगों के मन में डर है और ना ही कोई खौफ पुलिस और सरकार से बेखौफ होकर दबंग खुलेआम सरकार और पुलिस को मारपीट कर खुली चुनौती दे रहे हैं। हिंदुस्तान की सीमाओं की सुरक्षा करने वाले फौजी अपनी जान पर खेलकर सरहद पर ड्यूटी करता है और हमारी तुम्हारी रक्षा करता है। जब जवान ड्यूटी कर छुट्टी लेकर घर वापस लौटता है तो दबंग आरोपी आर्मी में तैनात फौजी पर लाठी-डंडों व धारदार हथियार से हमला कर मार पिटाई कर जान से मारने की परिवार सहित धमकी देते हैं और फौजी जवान की जमीन पर कब्जा कर लेते हैं। जिसमें फौजी सरकार और मुरादाबाद प्रशासन से मदद की गुहार के लिए दर-दर भटक रहा है। सुनवाई न होने से आहत पीड़ित सीआरपीएफ जवान ने पूरे परिवार के साथ सुसाइड करने की धमकी दी है।

PunjabKesari

मामला मुरादाबाद जनपद मूंढापांडे थाना क्षेत्र के भुजपुरा आशा गांव का है। यहां के निवासी सीआरपीएफ जवान गिरिराज सिंह का परिवार बुजपुर आशा गांव में ही रहता है। फौजी की गांव के पास ही कुछ जमीन है और वह जमीन भी फौजी के नाम है जिसके चलते गांव के ही दबंग लोग जमीन पर कब्जा कर रहे हैं। जवान को परिजनों ने कब्जे का विरोध किया तो दबंगों ने जवान की मां और भाई को बुरी तरह पीटा और जान से मारने की धमकी दे डाली। पीड़ित मां ने मामले की जानकारी सीआरपीएफ में तैनात बेटे गिरिराज सिंह को दी और फोन पर सारी आपबीती बताई। 

जवान गिरिराज सिंह ने परिवार में हालत गंभीर बताकर अपने कमांडेट से छुट्टी ली और उसके बाद जवान अपने घर दूसरे दिन पहुंचा और परिवार से सारी पूछताछ कर सुबह के वक्त धान की खड़ी फसल को खेत पर देखने के लिए पहुंचा। तभी गांव के ही दबंग आरोपी फिर से फावड़ा लाठी-डंडे लेकर जमीन पर कब्जा करने पहुंच गए जिसका जवान ने विरोध किया तो सीआरपीएफ जवान को भी दबंगों ने चारों तरफ से घेरकर लाठी-डंडों व धारदार हथियार कुल्हाड़ी, फावडे से हमला कर दिया और बुरी तरह पीटकर जवान को घायल कर दिया। जवान की  पिटाई की चीख-पुकार सुनकर गांव वासियों ने दबंगों के चुंगल से आर्मी के जवान और उसके परिवार को बचाया। दबंगों ने जाते समय पूरे परिवार को जान से मारने की धमकी देते हुए फरार हो गए। उधर पीड़ित परिवार ने आनन-फानन में 112 पीआरबी पुलिस को फोन कर जानकारी दी। मौके पर पहुंची थाना पुलिस ने परिवार से सभी घटना की जानकारी ली और थाने ले जाकर फौजी को ही डरा धमकाकर बिना रिपोर्ट दर्ज किए ही थाने से घर भेज दिया। 

PunjabKesari

पीड़ित सीआरपीएफ जवान ने बताया कि में मुरादाबाद एसएसपी प्रभाकर चौधरी से दबंगों के खिलाफ लिखित शिकायती पत्र देकर मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार कर उन्हें जेल भेजने की गुहार लगाई थी जिसमें ना तो थाना अध्यक्ष ने संज्ञान लिया और ना ही मुरादाबाद एसएसपी प्रभाकर चौधरी ने। अब मैं मानसिक रूप से परेशान हूं। होकर पीड़ित फौजी ने बताया कि राष्ट्रपति नई दिल्ली, प्रधानमंत्री भारत सरकार, गृह मंत्री भारत सरकार व रक्षा मंत्री भारत सरकार, एवं उत्तर प्रदेश की योगी सरकार के पोर्टल पर भी शिकायत की है। जिसमें मैंने सभी को मेल और शिकायत पत्र देकर मदद की गुहार लगाई है और कहा है कि अगर यहां से भी मुझे न्याय नहीं मिला तो पूरे परिवार के साथ सामुहिक रूप से आत्मा हत्या कर लूंगा और जिसकी सारी जिम्मेदारी पुलिस प्रशासन की होगी। 


Ajay kumar

Related News